Modi Tea Stall: कभी मोदी जहां बेचा करते थे चाय, बतौर पीएम आज उसी स्‍टेशन का किया उद्घाटन

vadnagar station
Last Updated: शुक्रवार, 16 जुलाई 2021 (18:14 IST)
हमें फॉलो करें
गांधीनगर, पीएम मोदी ने शुक्रवार को गांधीनगर रेलवे स्‍टेशन के साथ ही अपने गृह नगर वडनगर रेलवे स्‍टेशन का भी शुभारंभ किया। सोशल मीडि‍या में वडनगर स्‍टेशन की चर्चा इसलिए भी हो रही क्‍योंकि यही वो जगह है जहां पीएम मोदी कभी अपने पिता के साथ चाय बेचने का काम करते थे।

बता दें कि वडनगर रेलवे स्टेशन के अंदर प्रधानमंत्री मोदी के पिता दामोदरदास मोदी की चाय की दुकान थी। बचपन के दिनों में, मोदी स्टेशन पर चाय बेचने में अपने पिता की मदद करते थे।

मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद राजनीतिक बयानबाजी में उनके चायवाला होने को लेकर सभी दलों की तरफ से कई तरह की बयानबाजी हुई। इसलिए वडनगर भी अब चर्चा में है।

गांधीनगर रेलवे स्टेशन के अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को पुनर्निर्मित वडनगर रेलवे स्टेशन का भी डिजिटल तरीके से उद्घाटन किया। यह रेलवे स्टेशन पीएम मोदी के लिए बेहद खास है, क्योंकि इसी स्टेशन पर वह बचपन में अपने पिता के साथ चाय बेचा करते थे। उनका टी स्टॉल अभी भी वहां मौजूद है, जिसे रेनोवेट करके पर्यटन केंद्र में बदला गया है। पूरे रेलवे स्टेशन को रेनोवेट करने के लिए 8.5 करोड़ रुपये की लागत आई है।

दरअसल, वडनगर कस्बा पीएम मोदी का गृहनगर है। रेलवे स्टेशन की इमारत को 8.5 करोड़ रुपये की लागत से हेरिटेज लुक दिया गया है। रेनोवेटेड रेलवे स्टेशन के अलावा, पीएम मोदी ने अन्य परियोजनाओं का उद्घाटन भी किया।

बताया जा रहा है कि वडनगर रेलवे स्टेशन उस मार्ग पर पड़ने वाले प्रमुख स्टेशनों में से एक है। चूंकि यह हेरिटेज सर्किट का भी हिस्सा है, इसलिए पर्यटन मंत्रालय ने मौजूदा स्टेशन की इमारत और उसके प्रवेश द्वार को हेरिटेज लुक देने के लिए 8.5 करोड़ रुपये खर्च किए।

पश्चिम रेलवे के मंडल रेल प्रबंधक दीपक कुमार झा ने आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘चूंकि तरंगा हिल तक ब्रॉड गेज लाइन बिछाना तकनीकी रूप से संभव नहीं था, इसलिए हमने गेज को पहाड़ी से सिर्फ 3 किलोमीटर पहले वरेथा तक बदल दिया।'

शुक्रवार को, प्रधानमंत्री ने उस 54 किलोमीटर खंड का भी उद्घाटन किया, जिसे ब्रॉड गेज में परिवर्तित कर दिया गया है।

पीएम मोदी ने देश के पहले फाइव स्‍टार होटल वाले गांधीनगर कैपिटल रेलवे स्टेशन का उद्घाटन किया। इस रेलवे स्टेशन को 71 करोड़ रुपये की लागत से आधुनिक बनाया गया है। यहां आधुनिक एयरपोर्ट्स के मुताबिक ही विश्वस्तरीय सुविधाएं दी गई हैं। साथ ही दिव्यांगों की सुविधा के लिए विशेष टिकट खिड़की, रैम्प, लिफ्ट और सुरक्षित पार्किंग की व्यवस्था की गई है। स्टेशन पर अत्याधुनिक थीम आधारित लाइटिंग की व्यवस्था की गई है, जिसमें 32 थीम निर्धारित हैं। वहीं, स्टेशन परिसर में पांच सितारा होटल भी होगा।



और भी पढ़ें :