पाक सैनिकों ने तंगधार में मस्जिदों और घरों को निशाना बनाया

पुनः संशोधित गुरुवार, 31 दिसंबर 2020 (22:38 IST)
हमें फॉलो करें
श्रीनगर/जम्मू। पाकिस्तानी सेना ने संघर्ष विराम समझौते का उल्लंघन करते हुए जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा और राजौरी जिलों में नियंत्रण रेखा (LoC) के पास गोलीबारी की और मोर्टार दागे। अधिकारियों ने गुरुवार को यह जानकारी दी।

सेना के एक अधिकारी ने कहा कि कुपवाड़ा के सेक्टर में पाकिस्तानी सैनिकों ने विशेष रूप से सीमावर्ती गांवों में मस्जिदों और घरों को निशाना बनाया।

अधिकारी ने कहा कि पाकिस्तान ने कल शाम तंगधार सेक्टर, कुपवाड़ा में नियंत्रण रेखा के पास बिना किसी कारण के संघर्ष विराम का उल्लंघन शुरू किया। राजौरी के नौशेरा सेक्टर में, पाकिस्तानी सैनिकों ने सीमावर्ती चौकियों पर भारी गोलीबारी की और मोर्टार दागे।
जम्मू में एक रक्षा प्रवक्ता ने कहा कि आज अपराह्न लगभग सवा 3 बजे पाकिस्तान सेना ने राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर में एलओसी के पास छोटे हथियारों से गोलीबारी की और मोर्टार दागे। अधिकारियों ने कहा कि एलओसी पर तैनात भारतीय सेना के जवानों ने इसका मुंहतोड़ जवाब दिया।
आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि जम्मू-कश्मीर में 2020 में नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान द्वारा की 5,100 घटनाएं दर्ज की गईं, जो पिछले 18 वर्षों में सबसे अधिक है। इन गोलीबारी व गोलाबारी में 36 लोगों की मौत हो गई और 130 से अधिक घायल हुए थे। मारे गए 36 लोगों में 24 सुरक्षाकर्मी थे।
एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि पाकिस्तानी सैनिकों ने नियंत्रण रेखा (LoC) और अंतरराष्ट्रीय सीमा (IB) पर लोगों में भय का माहौल पैदा करने और शांति को अस्थिर करने के लिए बार-बार सीमावर्ती चौकियों और गांवों को निशाना बनाया।



और भी पढ़ें :