मेनका बोली- आतंकवाद में लगता है गौमांस का पैसा

पुनः संशोधित सोमवार, 15 सितम्बर 2014 (12:23 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। केंद्रीय महिला-बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने एक बयान देकर खलबली मचा दी है। मेनका ने जानवरों के मांस के निर्यात पर पाबंदी लगाने की वकालत करते हुए कहा कि के अवैध कारोबार से आया पैसा आतंकवाद में लगाया जा रहा है।
 
इस बाबत मेनका गांधी ने उत्तर प्रदेश पुलिस की 4 साल पुरानी एक रिपोर्ट का हवाला दिया जिसके अनुसार जानवरों की हत्या से जो पैसा आता है उसका इस्तेमाल आतंकवाद की फंडिंग में किया जाता है। मेनका ने साथ में ये भी कहा कि ये कारोबार किसी धर्म विशेष से जुड़ा नहीं है बल्कि भारत में अब ये एक व्यापार बन गया है।
 
मेनका गांधी ने जानवरों के सरंक्षण के लिए आयोजित इंटरनेशनल कॉन्फ्रेंस 'इंडिया फॉर एनिमल्स-2014' में पशु कल्याण कार्यकर्ताओं से हर दिन दो कुत्तों को बचाने का आह्वान किया और यह देखने के लिए कहा कि आवारा पशुओं को ज्यादा से ज्यादा परिवारों द्वारा अपनाया जाए।
 
मेनका के इस बयान के बाद कांग्रेस ने भाजपा पर आरोप लगाया है कि पार्टी ध्रुवीकरण की राजनीति कर रही है। कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने कहा कि अगर भाजपा के पास इसके ठोस सबूत है तो उसे लेकर सामने आए। (एजेंसी)



और भी पढ़ें :