शुक्रवार, 3 फ़रवरी 2023
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. राष्ट्रीय
  4. Is there a 'Mafia' government in Gujarat? Rahul Gandhi's target on 'double engine' government
Written By
पुनः संशोधित सोमवार, 1 अगस्त 2022 (13:20 IST)

क्या गुजरात में 'माफिया' की सरकार है? राहुल गांधी का 'डबल इंजन' सरकार पर निशाना

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुजरात में पिछले कुछ महीनों में की गई मादक पदार्थों की जब्ती को लेकर सोमवार को केंद्र एवं राज्य सरकार पर निशाना साधा और सवाल किया कि डबल इंजन सरकार में कौन लोग हैं, जो राज्य में मादक पदार्थ माफिया और शराब माफिया को संरक्षण दे रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि गुजरात में कानून व्यवस्था है या फिर ‘माफिया की सरकार’ है?
 
राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा- गुजरात के मुंद्रा बंदरगाह पर पिछले साल 21 सितंबर को 21 हजार करोड़ रुपए के 3000 किलोग्राम मादक पदार्थ बरामद किए गए। गत 22 मई को 500 करोड़ रुपए के 56 किलोग्राम और 22 जुलाई को 375 करोड़ रुपए के 75 किलोग्राम मादक पदार्थ बरामद किए गए।
 
कांग्रेस नेता ने सवाल किया कि डबल इंजन सरकार में बैठे कौन लोग हैं, जो लगातार मादक पदार्थ माफिया और शराब माफिया को संरक्षण दे रहे हैं? गुजरात के युवाओं को नशे में क्यों धकेला जा रहा है?
 
उन्होंने यह भी पूछा कि एक ही बंदरगाह पर तीन-तीन बार मादक पदार्थ बरामद होने के बावजूद, उसी बंदरगाह पर लगातार मादक पदार्थ की खेप कैसे उतर रही है? क्या गुजरात में कानून व्यवस्था ख़त्म हो गई है? माफिया को कानून का कोई डर नहीं? या ये माफिया की सरकार है?
 
प्रियंका ने भी साधा निशाना : कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्वीट किया कि गुजरात में एक ही बंदरगाह से तीन बार लगभग 22000 करोड़ रुपए के मादक पदार्थ बरामद हुए। मीडिया में चुप्पी, सरकार में सुस्ती, सरकार की सारी एजेंसियां सन्नाटे में। भाजपा सरकार की नाक के नीचे से माफिया पूरे देश में मादक पदार्थ बांट रहे हैं। कानून व्यवस्था असहाय है या माफिया से मिलीभगत है?
 
गौरतलब है कि गुजरात के आतंकवाद निरोधी दस्ते (एटीएस) ने पिछले महीने कच्छ जिले के मुंद्रा बंदरगाह के पास एक कंटेनर से करीब 75.3 किलोग्राम हेरोइन जब्त की, जिसकी कीमत 376.5 करोड़ रुपए होने का अनुमान है।
 
राजस्व आसूचना निदेशालय (डीआरआई) ने पिछले साल सितंबर में मुंद्रा बंदरगाह पर दो कंटेनरों से लगभग 3,000 किलोग्राम हेरोइन जब्त की थी, जिसके बारे में माना जाता है कि यह अफगानिस्तान से आई थी और अंतरराष्ट्रीय बाजार में इसकी कीमत लगभग 21,000 करोड़ रुपए थी।
 
इस साल मई में डीआरआई ने मुंद्रा बंदरगाह के पास एक कंटेनर से 56 किलोग्राम कोकीन जब्त की थी, जिसकी कीमत लगभग 500 करोड़ रुपए थी। वहीं, अप्रैल में डीआरआई ने कच्छ में कांडला बंदरगाह के पास एक कंटेनर से लगभग 1,439 करोड़ रुपए की 205.6 किलोग्राम हेरोइन जब्त की थी। इन मामलों में कुछ लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है।
 
ये भी पढ़ें
बिहार के मंत्री जी ने कहा, ‘मोदी जी की वजह से आप सब जिंदा हैं’, वीडियो हो गया वायरल