भारत-पाकिस्तान में परमाणु युद्ध हुआ तो, खत्म हो जाएगी मानवजाति!!

Last Updated: मंगलवार, 20 सितम्बर 2016 (16:06 IST)
यह भी हो सकता है कि इस के दौरान दुनिया एक बार फिर तीसरे महायुद्ध की और मुड़ जाए। चीन द्वारा का समर्थन, भारत और अमेरिका के एकसाथ होने से इजराइल-अरब युद्ध की आग से तुर्की समेत अन्य मुस्लिम राष्ट्रों से यूरोप की ओर आने वाले शरणार्थियों को रोकने में हिंसक संघर्ष युद्ध में बदलते देर नहीं लगेगी।

क्यों होगी मानवता तबाह : इसका एक बड़ा कारण यह है कि भारतीय उपमहाद्वीप में हुए किसी भी परमाणुु धमाके से खतरनाक रेडिएशन चीन, रूस और मध्यपूर्व की तरफ फैल जाएगा जिससे वहां की वायु, जल और मिट्टी खतरनाक रूप से प्रदूषित हो जाएंगे। कई तरह की बीमारियां फैलेगी जिससे भुखमरी, स्वास्थ्य समस्याएं और बड़े पैमाने पर महामारी का खतरा है।

वायु से रेडियोधर्मी बादल अमेरिका और यूरोप को भी अपनी जद में ले लेंगे, समुद्र में हुए आणविक हमले से जलीय जीवन को भारी नुकसान होगा और समुद्री तरंगों से विकिरण पूरी दुनिया में पहुंचने में सिर्फ 6-8 महीने का समय लेगा। विशेषज्ञ बताते हैं कि भारत-पाक के परमाणु युद्ध से उपजे रेडिएशन से 5 वर्षों में दुनियाभर की 50% से भी अधिक फसलें खत्म हो जाएंगी। इसी तरह प्रदूषित पानी और हवा से वैश्विक स्तर पर मानवजाति को अकल्पनीय नुकसान होगा।
ग्लोबल वॉर्मिग से जूझ रही दुनिया का मौसम रेडियोधर्मी बादलों से विषाक्त होने लगेगा और इस युद्ध से संपूर्ण विश्व पर खतरनाक प्रभाव पड़ेगा। भोजन और पानी की कमी से वैश्विक भुखमरी का दौर शुरू होगा जिससे वर्तमान मानव आबादी के लिए अस्तित्व का संकट खड़ा हो जाएगा।



और भी पढ़ें :