कर्मचारियों को उपहार में आईफोन, मर्सिडीज

नई दिल्ली| पुनः संशोधित रविवार, 11 जनवरी 2015 (18:35 IST)
नई दिल्ली। बेहतर प्रतिभा को जोड़े रखने के इरादे से कंपनियां अब अच्छा काम करने वाले कर्मचारियों को अलग तरीके से पुरस्कृत कर रही हैं।
वे अपने कर्मचारियों को अत्याधुनिक आईफोन, फ्लैट, कार और आभूषण जैसे कीमती सामान देकर पुरस्कृत कर रही हैं। वैसे इसकी शुरुआत गुजरात की एक हीरा कंपनी ने कुछ महीने पहले की थी।
 
पिछली दिवाली पर सूरत की कंपनी हरि कृष्ण एक्सपोर्ट अपने 1,200 कर्मचारियों को 50 करोड़ रुपए मूल्य के की घोषणा के बाद से सुर्खियों में थी। कंपनी ने कार, फ्लैट तथा आभूषण जैसे उपहार की घोषणा की थी।
 
वफादारी परीक्षा (लॉयल्टी टेस्ट) पास करने वाले प्रत्येक कर्मचारी को दिवाली के तोहफे के रूप में कम से कम 4 लाख रुपए का उपहार दिया गया। उन्हें फिएट पुंटो कार, 2 बेडरूम के फ्लैट का आंशिक भुगतान या सोना एवं हीरे का आभूषण लेने का विकल्प दिया गया।
 
इसे क्रम को आगे बढ़ाते हुए इंफोसिस एवं एएचसीएल टेक जैसी कंपनियां बेहतर काम करने अपने कर्मचारियों को महंगे उपहार दे रही हैं।
 
मानव संसाधन विशेषज्ञों का मानना है कि जब बेहतर प्रतिभा को कंपनी से जोड़े रहने की बात आती है तो कंपनियां अलग हटकर सोच रही हैं और ऊंचे वेतन पैकेज और बोनस के अलावा इस प्रकार आकर्षक उपहार दे रही हैं।
 
एचसीएल टेक्नोलॉजीज ने बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले अपने शीर्ष कर्मचारियों में से 130 को प्रोत्साहन स्वरूप मर्सिडीज या विदेश में छुट्टी बिताने का पूरा खर्च दिया, वहीं इंफोसिस ने अपने 3,000 कर्मचारियों को 6एस दिया।
 
ग्लोबल हंट के प्रबंध निदेशक सुनील गोयल ने कहा कि नई परियोजनाओं के संदर्भ में बाजार में पर्याप्त मौके हैं और पूरे उद्योग में नियुक्ति गतिविधियां बढ़ रही हैं। ऐसे में कंपनियां अच्छा काम करने वाले कर्मचारियों को प्रेरित कर रही हैं और इस प्रकार का उपहार देकर उन्हें उत्साहित कर रही हैं। (भाषा) 



और भी पढ़ें :