गुरुवार, 2 फ़रवरी 2023
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. राष्ट्रीय
  4. DGCA suspends 9 pilots, 32 cabin crew members for failing pre-flight breath analyser test
Written By
Last Updated: मंगलवार, 10 मई 2022 (23:35 IST)

9 पायलट, चालक दल के 32 सदस्य उड़ान पूर्व 'अल्कोहल टेस्ट' में असफल रहे: DGCA

नई दिल्ली। भारत के उड्डयन नियामक डीजीसीए ने मंगलवार को कहा कि 9 पायलट और चालक दल के 32 सदस्य 1 जनवरी से 30 अप्रैल के बीच उड़ान से पहले किए गए 'अल्कोहल टेस्ट' (शराब के सेवन का पता लगाने के लिए की गई जांच) में असफल रहे।
 
नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने एक बयान में कहा कि उनमें से 2 पायलट और चालक दल के 2 सदस्यों को जांच में दूसरी बार असफल रहने के लिए 3 साल की अवधि के लिए निलंबित कर दिया गया है। उसने कहा कि शेष 7 पायलट और चालक दल के 30 सदस्यों को 3 महीने के लिए निलंबित कर दिया गया, क्योंकि वे पहली बार बीए (ब्रेथलाइजर) जांच में पॉजिटिव पाए गए थे।
 
डीजीसीए के अनुसार इंडिगो के 4 पायलट और चालक दल के 10 सदस्य, गो फर्स्ट के 1 पायलट और चालक दल के 5 सदस्य, स्पाइसजेट के 1 पायलट और चालक दल के 6 सदस्य, एयर इंडिया एक्सप्रेस का 1 पायलट और एयरएशिया इंडिया के चालक दल के 4 सदस्य उक्त अवधि में उड़ान पूर्व अल्कोहल जांच में विफल रहे।
 
विमानन नियामक ने कहा कि विस्तारा का 1 पायलट और चालक दल के 2 सदस्य, एलायंस एयर का 1 पायलट और एयर इंडिया के चालक दल के 5 सदस्य भी जांच में विफल रहे। डीजीसीए ने पिछले महीने कहा था कि एयरलाइंस को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि उनके पायलट और चालक दल के सदस्यों में से 50 प्रतिशत का 'अल्कोहल टेस्ट' हो।
 
कोविड-19 महामारी के प्रकोप से पहले चालक दल के सभी सदस्यों को उड़ान से पहले शराब सेवन का पता लगाने के लिए इस जांच से गुजरना पड़ता था। हालांकि जब महामारी आई तो जांच कुछ महीनों के लिए स्थगित कर दी गई। इसके बाद जांच फिर से शुरू की गई लेकिन चालक दल के सदस्यों के केवल एक छोटे हिस्से के लिए।