अनिल विज के कोरोना संक्रमित होने पर भारत बायोटेक की सफाई, Covaxin है प्रभावी और सुरक्षित

Covaxin
पुनः संशोधित शनिवार, 5 दिसंबर 2020 (20:20 IST)
नई दिल्ली। हरियाणा के गृहमंत्री (Anil Vij) के कोरोनावायरस से संक्रमित पाए जाने पर दवा कंपनी (Bharat Biotech) ने शनिवार को कहा कि उसकी कोविड-19 (Covid-19) वैक्सीन- कोवैक्सिन (Covaxin) सुरक्षित और प्रभावशाली है।
उल्लेखनीय है कि विज ने कोवैक्सिन के तीसरे चरण के परीक्षण में इसकी खुराक ली थी। कोवैक्सिन कोविड-19 की संभावित वैक्सीन है, जिसका विकास भारत बायोटेक, भारतीय चिकित्सा शोध संस्थान (आईसीएमआर) के साथ मिलकर कर रही है।
दवा कंपनी ने कहा कि वैक्सीन की दो खुराक लेनी जरूरी हैं और इसके असर का मूल्यांकन दोनों खुराक लेने के 14 दिन बाद किया जा सकता है।
भारत बायोटेक ने एक बयान में कहा कि कोवैक्सिन का चिकित्सकीय परीक्षण दो खुराकों पर आधारित है, जो 28 दिनों के अंतराल पर दिए जाते हैं। वैक्सीन के असर का मूल्यांकन भी दूसरी खुराक दिए जाने के 14 दिनों बाद किया जा सकता है।
Anil vij
कंपनी ने सीधे विज का नाम लिए बिना कहा कि वैक्सीन को इस तरह तैयार किया गया है कि दूसरी खुराक लेने के 14 दिन बाद यह असर करती है। विज ने इसकी पहली खुराक 20 नवंबर को ली थी। उन्हें दूसरी खुराक देनी बाकी थी।
भारत बायोटेक ने कहा कि वैक्सीन के तीसरे चरण के परीक्षण में 50 प्रतिशत लोगों को वैक्सीन दी जाएगी और शेष 50 प्रतिशत को प्लेसिबो दिया जाएगा।

कोवैक्सिन पूरी तरह भारत में विकसित कोविड-19 वैक्सीन है, और तीसरे चरण के तहत 25 स्थानों में 26,000 लोगों पर इसका परीक्षण किया जा रहा है। कंपनी ने कहा कि उसका मकसद पूरे देश में कोवैक्सिन के असर का पता लगाना है। (भाषा)



और भी पढ़ें :