आपातकाल वाले बयान पर BJP का पलटवार, राहुल गांधी को RSS को समझने में बहुत समय लगेगा

Rahul Gandhi
पुनः संशोधित बुधवार, 3 मार्च 2021 (21:07 IST)
नई दिल्ली। भाजपा (BJP) ने के पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी के के संबंध में दिए गए बयान को हास्‍यास्‍पद बताते हुए कहा है कि आपातकाल के दौरान उस वक्त की सरकार ने सारे संगठनों को कमजोर कर दिया था।
ALSO READ:
Fact Check: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर बना चौक? जानिए वायरल PHOTO का सच
भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं केंद्रीय मंत्री ने कहा कि आपातकाल के दौरान सरकार का विरोध करने वाले तमाम सांसदों, विधायकों को गिरफ्तार किया गया था। लगभग सारे राजनीतिक दलों को प्रतिबंधित किया गया था। यही नहीं, आलोचना करने वाले अखबारों को भी बंद कर दिया गया था।
जावड़ेकर ने कहा कि राहुल को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) को समझने में काफी समय लगेगा। दुनिया में देशभक्ति की सबसे बड़ी पाठशाला आरएसएस है।
गुजरात के निकाय चुनावों में भाजपा के प्रदर्शन के बारे में जावड़ेकर ने कहा कि गुजरात में जिला परिषद के चुनाव में भाजपा ने सभी 31 सीटें जीती हैं जबकि कांग्रेस का चुनावों में सफ़ाया हो गया।

गुजरात के निकाय चुनावों में भाजपा की सफलता का ज़िक्र करते हुए उन्होंने कहा कि गुजरात के लोगों ने नए कृषि कानून के पक्ष में वोट दिया है। लोगों ने कांग्रेस के नकारात्मक प्रचार को खारिज कर दिया है।
दिल्ली के नगर निगम उपचुनाव में भाजपा की हार को लेकर जावडेकर ने कहा कि दिल्ली के नतीजों पर सिर्फ इतना कहूंगा कि जिसकी सीट जिसके पास थी उसके पास गई।

राहुल ने मंगलवार को कहा था कि पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी द्वारा लगाया गया आपातकाल एक 'गलती' थी। उन्होंने कहा था कि हालांकि वर्तमान परिप्रेक्ष्य से आपातकाल बिलकुल अलग था, क्योंकि कांग्रेस ने कभी भी देश के संस्थागत ढांचे पर कब्जा करने का प्रयास नहीं किया।

नहीं मिल रहा न्याय : कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी तथा पार्टी की उत्तरप्रदेश की प्रभारी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा है कि केंद्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तरप्रदेश में योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली सरकार में किसी को न्याय नहीं मिल रहा है और न ही लोगों को उनके सवालों का जवाब दिया जा रहा है।

गांधी और वाड्रा ने बुधवार को कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार से सवाल पूछे जा रहे हैं लेकिन जनहित से जुड़े हर सवाल पर चुप्पी साधी जा रही है। भाजपा की सरकारें जो प्रचार करती हैं स्थिति उसके ठीक विपरीत होती है और लोगों की समस्याओं की कहीं सुनवाई नहीं हो रही है।
गांधी ने सरकार से सवालों के जवाब मांगते हुए ट्वीट किया कि छात्रों के सवालों का, बेरोज़गारी के इन सालों का और व्यवसायों में पड़े तालों का आज हिसाब दो।

वाड्रा ने योगी सरकार पर हमला करते हुए कहा कि हाथरस में छेड़छाड़ के खिलाफ मुक़दमा वापस न लेने वाली एक लड़की के पिता की हत्या कर दी गई। बुलंदशहर में कई दिनों से गायब एक बच्ची का शव एक घर में गड़ा हुआ मिला। अपराध को लेकर यूपी भाजपा सरकार के झूठे प्रचार के ठीक विपरीत जमीन पर हर रोज कोई न कोई परिवार न्याय के लिए चीख रहा है।



और भी पढ़ें :