अविश्वास प्रस्ताव: शिवसेना ने मोदी की तुलना फ्रांस और राहुल की क्रोएशिया से की

Last Updated: शनिवार, 21 जुलाई 2018 (23:02 IST)
मुंबई। फाइनल और केंद्र की राजग सरकार के खिलाफ लाए गए के बीच तुलना करते हुए शिवसेना ने शनिवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी फ्रांस की तरह भले ही विजयी हुए हों, लेकिन अध्यक्ष राहुल गांधी ने उपविजेता क्रोएशिया की तरह कई लोगों का दिल जीता।

शिवसेना प्रवक्ता संजय राउत ने कहा,‘फुटबॉल विश्व कप फाइनल में फ्रांस ने (खिताब) जीता, लेकिन क्रोएशिया जिस तरह से खेली उसके लिए उसे याद किया जाएगा। राहुल के बारे में अब उसी तरह से चर्चा हो रही है। जब कोई इस तरह से राजनीति करता है तो चार - पांच कदम आगे बढ़ता है।’

गांधी के प्रधानमंत्री मोदी को गले लगाने के बारे में राउत ने यहां एक समाचार चैनल से कहा कि इस तरह की हरकतें ध्यान आकर्षित करने के लिए की जाती हैं। अगर गांधी ने मोदी को झटका देने के लिए ऐसा किया, तो वह सफल रहे।

राज्यसभा सदस्य ने कहा कि गांधी को लोकसभा में शुक्रवार को अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान नए अवतार में दिखने के लिए बधाई दी जानी चाहिए। गांधी ने किसानों की समस्या से लेकर राफेल सौदे समेत विभिन्न मुद्दों पर मोदी सरकार पर तीखे हमले किए। शिवसेना नेता ने कहा, ‘मोदी का भाषण प्रधानमंत्री की तरह का था। मोदी जी, मोदी जी हैं। मोदी जी की तुलना किसी और से करना सही नहीं होगा। हालांकि, राहुल के भाषण की भी उसी तरह से चर्चा की जा रही है।

राउत ने कहा कि अविश्वास प्रस्ताव का गिरना आश्चर्यजनक नहीं है, क्योंकि निचले सदन में भाजपा नीत राजग के पास बहुमत है। उन्होंने कहा, ‘सत्ता की अपनी ताकत है और उसमें डर का तत्व भी है। देश अक्सर प्रधानमंत्री को सुनता है, लेकिन राहुल पहली बार अपने नए अवतार में दिखे। मोदी सरकार के खिलाफ शुक्रवार को अविश्वास प्रस्ताव 325-126 के अंतर से गिर गया। भाजपा की पूर्व सहयोगी तेदेपा ने अविश्वास प्रस्ताव पेश किया था। शिवसेना ने मतदान में हिस्सा नहीं लिया था।



और भी पढ़ें :