अब रियासी में पकड़ा गया हथियारों का जखीरा

सुरेश एस डुग्गर| पुनः संशोधित गुरुवार, 18 फ़रवरी 2021 (17:00 IST)
हमें फॉलो करें
जम्मू। अब रियासी जिले में आतंकियों के ठिकाने से हथियारों का जखीरा बरामद किया गया है। इसी जिले में विश्व प्रसिद्ध वैष्णोदेवी का तीर्थस्थल भी है। इन हथियारों की बरामदगी के बाद तीर्थ स्थान की सुरक्षा व्यवस्था और मजबूत किए जाने की बात की जा रही है।
अधिकारियों ने बताया कि से इस ओर भेजे गए हथियारों की भारी खेप बरामद हुई है। रियासी जिले के मक्खिदार इलाके के घने जंगलों में एक के दौरान माहौर और सेना ने एक चट्टान के नीचे छिपाए गए काफी संख्या में बरामद किए हैं। सुरक्षाबलों का कहना है कि हथियारों को देख ऐसा लगता है कि किसी बड़े हमले की तैयारी में थे।

सुरक्षाधिकारियों का दावा है कि विश्वसनीय सूत्रों से मक्खिदार के घने जंगलों में संदिग्ध देखे जाने की सूचना मिली थी। इसी के आधार पर यहां संयुक्त तलाशी अभियान चलाया गया। जंगलों के बीचों-बीच एक बड़ी चट्टान दिखी। चट्टान में दरार बनी हुई थी, तलाशी लेने पर उसमें कुछ सामान रखा हुआ देखा। चट्टान से सामान निकाल जब उसकी जांच की गई थी उसमें काफी मात्रा में हथियार रखे हुए थे।

बरामद हुए हथियारों में एके-47 राइफल-01, एसएल राइफल-01, एक 303 बोल्ट राइफल, दो चीनी पिस्तौल, उसकी मैगजीन, एंटीना के साथ दो रेडियो सेट, एक एके-47 राउंड बॉक्स, चार यूबीजीएल ग्रेनेड शामिल हैं।

ऐसा माना जा रहा है कि यह हथियार पाकिस्तान से पुंछ के रास्ते भेजे गए होंगे। पुलिस का कहना है कि हथियारों की यह खेप ओवरग्राउंड वर्करों की मदद से पुंछ एलओसी से यहां तक पहुंचाई गई है। अब यहां से पीरपंजाल के पहाड़ों को पार कर इन हथियारों को कश्मीर तक पहुंचाने का जिम्मा किसी और ओवरग्राउंड वर्कर को सौंपा गया हो।




और भी पढ़ें :