खादी पर छूट समाप्त करने पर लालू नाराज

नई दिल्ली| भाषा| पुनः संशोधित गुरुवार, 19 अगस्त 2010 (14:46 IST)
हमें फॉलो करें
PTI
हर साल गाँधी जयंती के अवसर पर खादी ग्रामोद्योग द्वारा खादी वस्त्रों पर दी जाने वाली 30 प्रतिशत की छूट को इस साल नहीं दिए जाने पर राजद नेता और सपा प्रमुख ने लोकसभा में सख्त नाराजगी जताते हुए सरकार पर आरोप लगाया कि वह बापू के सपनों को मटियामेट कर रही है।


छूट को समाप्त करने के फैसले को तुरंत वापस लिए जाने की माँग पर लालू के नेतृत्व में उनके दलों से सदस्यों ने सदन से वॉकआउट भी किया।

शून्यकाल में यह मुद्दा उठाते हुए मुलायम ने कहा कि बापू को शरारिक रूप से नाथूराम गोडसे ने मारा लेकिन उनके दर्शन की हत्या यह कांग्रेस नीत सरकार कर रही है।

उन्होंने कहा कि गाँधी जयंती के अवसर पर खादी ग्रामोद्योग में दी जानी वाली 30 प्रतिशत की छूट को समाप्त करने से इसकी बिक्री प्रभावित होगी और गाँव-गाषव में सूत कातने वाले और खादी वस्त्र बुनने वाले लाखों गरीबों की रोजी रोटी प्रभावित होगी।


लालू ने सरकार पर आरोप लगाया कि वह बापू को मटियामेट कर रही है। उन्होंने कहा कि इस तरह के फैसलों से आजादी की प्रतीक खादी के प्रसार के हत्तोसाहित करने से हाहाकार मच जाएगा।
उन्होंने कहा कि बिहार, उड़ीसा और उत्तरप्रदेश में बड़ी संख्या में लोग खादी पर आश्रित हैं और उनकी रोजी रोटी बचाने के लिए गाँधी जयंती के अवसर पर दी जाने वाली 30 प्रतिशत की छूट को तुरंत बहाल किया जाए।

संसदीय कार्य राज्य मंत्री वी नारायणसामी ने कहा कि वह सदस्यों की भावना से संबंधित मंत्री को अवगत करा देंगे और उनसे इस बारे में विचार करने का आग्रह भी करेंगे। (भाषा)



और भी पढ़ें :