कोरोना वैक्सीन पर सवाल उठाने वालों को नरोत्तम मिश्रा ने दिखाया आईना

2017 की हार को लेकर अखिलेश यादव पर कसा तंज

Author विकास सिंह| Last Updated: सोमवार, 4 जनवरी 2021 (15:23 IST)
भोपाल। कोरोना महामारी से लड़ रहे देश को की सौगात मिलने के बाद अब उस पर सियासत शुरु हो गई है। वैक्सीन आने के एलान के साथ मध्यप्रदेश के सीनियर कांग्रेस विधायक और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के भाई लक्ष्मण सिंह ने प्रधानमंत्री समेत सभी मुख्यमंत्रियों और मंत्रियों को पहले कोरोना वैक्सीन लगाए जाने की मांग कर दी है। लक्ष्मण सिंह अपने ट्वीट मे कहा कि “कोविड वैक्सीन को लेकर कई भ्रांतिया हैं।अच्छा होगा प्रधानमंत्री और सभी मुख्यमंत्री, मंत्री,वरिष्ठ अधिकारी पहले लगवा लें।सब ठीक होगा तो जनता भी लगवा लेगी”।
लक्ष्मण सिंह के इस
बयान के बाद प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने तंज कसते हुए कहा कि राष्ट्रहित से जुड़ी हर बात पर विवाद खड़ा करना कांग्रेस की संस्कृति है। कभी ये सेना पर सवाल उठाते हैं तो कभी ईवीएम पर। कभी कोरोना वैक्सीन पर तो अब किसान आंदोलन पर। दरअसल कांग्रेस का मूल चरित्र ही सवाली और बवाली है।

वहीं समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के कोरोना वैक्सीन को भाजपा की वैक्सीन बताए जाने पर भी नरोत्तम मिश्रा ने तंज कसते हुए कहा कि सपा के अखिलेश यादव जैसे नेताओं को कोराना के 'टीके' में नहीं उस पर 'टिप्पणी' करने में रुचि है।
उन्होंने अखिलेश यादव को पिछले विधानसभा चुनाव में हुई हार की याद दिलाते हुए कहा कि भाजपा की वैक्सीन उन्हें 2017 में लगी था इसका असर 5 साल तक रहता है। अब 2022 में उन्हें फिर यही वैक्सीन लगेगा और उसका असर भी 5 साल तक रहेगा। उन्हें समझना चाहिए कि वैक्सीन राजनीति नहीं राष्ट्र का विषय है।




और भी पढ़ें :