इंदौर में जुटे हजारों किसान, कलेक्‍टर को ज्ञापन पर अड़े

पुनः संशोधित मंगलवार, 6 जून 2017 (17:06 IST)
इंदौर। मध्यप्रदेश के इंदौर शहर में मंगलवार को लगातार छठवें दिन किसानों के विरोध प्रदर्शन के दौरान हजारों की संख्या में किसान कलेक्टर कार्यालय पर जुट गए। इस दौरान पुलिस ने कई बार उन्‍हें रोकने का प्रयास किया, लेकिन किसान नेता हजारों किसानों के साथ कलेक्टर को ज्ञापन देने की जिद पर अड़े हुए थे।






की अगुवाई करने इंदौर आए राष्ट्रीय किसान मजदूर संघ के अध्यक्ष शिव कुमार शर्मा और कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी को चोइथराम मंडी से कलेक्टर कार्यालय की ओर बढ़ने के दौरान पुलिस ने कई बार रोकने का प्रयास किया, लेकिन किसान नेता हजारों किसानों के साथ कलेक्टर को ज्ञापन देने की जिद पर अड़े हुए थे। खबर लिखे जाने तक हजारों किसान कलेक्टर कार्यालय के बाहर रोक लिए गए हैं।








इस दौरान किसान नेता शर्मा ने राज्य सरकार पर छलावा कर किसान आंदोलन समाप्त करने का आरोप लगाते हुए कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मुख्य मांगों को माने बिना औपचारिकताएं पूरी की हैं। उन्होंने कहा कि जब तक सरकार हमारी 20 सूत्रीय मांगों को लिखित में नहीं मान लेती तब तक आगामी 10 जून तक विरोध प्रदर्शन जारी रहेगा।







वही कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी ने किसानों की मांगों को जायज करार देते हुए आंदोलन के समर्थन की बात दोहराई। पटवारी ने कांग्रेस समर्थित उग्र आंदोलन के आरोप से जुड़े प्रश्न पर कहा कि ये लड़ाई कांग्रेस-भारतीय जनता पार्टी की लड़ाई नहीं है। राजनीति से परे जाकर राज्य सरकार को किसानों की मांगों को मानकर तत्काल लिखित आदेश और निर्देश जारी करना चाहिए।





इस दौरान भारी पुलिसबल की तैनाती के बीच शहर की प्रमुख सब्जी, फल और अन्न मंडियों में काम बंद रहा, जिसके चलते नागरिकों का जनजीवन प्रभावित हो रहा है। इंदौर शहर पुलिस उपमहानिरीक्षक हरिनारायणचारी मिश्र ने बताया कि ऐहतियातन शहर में पुख्ता सुरक्षा के इंतजाम किए गए हैं।




और भी पढ़ें :