पर्यावरण संरक्षण में भी इंदौर रहेगा 1 नंबर: संभागायुक्त डॉ. पवन शर्मा

janak plata
Last Updated: सोमवार, 7 जून 2021 (15:41 IST)
जिम्मी मगिलिगन सेंटर के पर्यावरण संवाद सप्ताह का समापन

विश्व पर्यावरण दिवस जून 5, 2021 के अवसर पर जिम्मी मगिलिगन सेंटर फॉर सस्टेनेबल डेवलेपमेंट द्वारा आयोजित पर्यावरण संवाद के समापन के मुख्य अतिथि इंदौर के संभागायुक्त डॉ पवन कुमार शर्मा थे। इंदौरवाले सोशल मीडिया ग्रुप संस्थापक fb लाइव कार्यक्रम के होस्ट समीर शर्मा ने उनका स्वागत किया।

कार्यक्रम की आयोजक जनक पलटा मगिलिगन ने विश्व पर्यावरण दिवस पर सप्ताहभर संवाद की जानकारी दी। विश्व पर्यावरण दिवस विषय प्राकृतिक व्यवस्था की पुनर्स्थापना रखा गया था। जनक पलटा मगिलिगन ने इस संवाद के परिणाम, कार्य योजना के लिए जो सुझाव दिए वो इस प्रकार है।

संवाद के परिणाम: इस विषय पर मई-31- 5 जून संवाद में भारत के UNEP
प्रमुख अतुल बगाई पर्यावरणविद, जलपुरुष राजेन्द्र र्सिंह, वंदना शिवा, ओ.पी जोशी, जयश्री सिक्का और मालवा के पर्यावरण संरक्षक देव वासुदेवन, अम्बरीश केला, अविनाश सेठी, संजय व्यास व जयवंत दभाड़े ने प्राकृतिक व्यवस्था की पुनर्स्थापना से जुड़े जलवायु संकट और इससे अभी और आगे बचने के उपाय सुझाए।

कोरोना महामारी ने स्पष्ट कर दिया है कि अगर हम प्रकृति के पुनरस्थापन करेंगे तो ही जीवित रहेंगे। इसलिये सभी संस्थाए मिलकर, सरकार और लोगों के साथ इस दिशा में काम करेंगे।

कार्य योजना के लिए सरकार को सुझाव
अर्बन एनवायरमेंटल प्लान और रूरल एनवायरमेंटल प्लान दोनों अलग-अलग बनना चाहिए।

रूरल प्लान: बैलगाड़ी टूरिज्म को बढ़ावा देकर बैल संवर्धन, गांव में वेस्ट मैनेजमेंट की व्यवस्था, ऑक्सीजन व पानी के संकट निवारण तालाब और कुओं को पुनर्जीवित करना होगा, नलकूपों की खुदाई को लेकर गाइडलाइन बनाई जाए। हर गांव में कोल्ड स्टोरेज हो। सुनिश्चित किया जाये कि सभी सदस्य भी पौधारोपण और प्राकृतिक भू संवर्धन जल संवर्धन, प्लास्टिक मुक्त जीवन के लिए लोगों को जोड़ा जाए।

वृक्षारोपण: पेड़ों का वितरण नहीं किया जाए उसके स्थान पर पेड़ अलग अलग जगह रखकर नागरिकों से स्वेच्छा से उसे ले जाने का कहा जाए। कोरोना के कारण जो लोग अब हमारे बीच नहीं रहे उनकी याद में और जो कोरोना को हराकर घर आ चुके हैं उनके द्वारा वृक्षारोपण किया जाए।

मुख्य अतिथि इंदौर के संभागायुक्त डॉ पवन कुमार शर्मा ने इस संवाद के आयोजन को सराहते हुए कहा कि पर्यावरण दिवस के अवसर पर सभी को बधाई देना चाहते हैं कि आप सभी ने देश को यह राह दिखाई। इंदौर के लोगों की सरकार के साथ मिलकर एकजुट होकर काम करना उनके जीवन में सबसे सुखद अनुभव है।



और भी पढ़ें :