मंगलवार, 23 जुलाई 2024
  • Webdunia Deals
  1. चुनाव 2024
  2. लोकसभा चुनाव 2024
  3. लोकसभा चुनाव समाचार
  4. Hindi India HindiIndia Alliance Mega Rally On March 31 Over Delhi Cm Arvind Kejriwal Arrest
Written By
Last Updated : रविवार, 24 मार्च 2024 (17:48 IST)

CM केजरीवाल की गिरफ्तारी का I.N.D.I.A गठबंधन करेगा विरोध, 31 मार्च को रामलीला मैदान में मेगा रैली

महागठबंधन का शक्ति प्रदर्शन

CM केजरीवाल की गिरफ्तारी का I.N.D.I.A  गठबंधन करेगा विरोध, 31 मार्च को रामलीला मैदान में मेगा रैली - Hindi India HindiIndia Alliance Mega Rally On March 31 Over Delhi Cm Arvind Kejriwal Arrest
CM Arvind Kejriwal Arrest : I.N.D.I.A  गठबंधन ने ऐलान किया है कि वह दिल्ली शराब नीति मामले में अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी के विरोध में 31 मार्च को दिल्ली के रामलीला मैदान में एक मेगा रैली आयोजित करेंगे। कांग्रेस दिल्ली प्रमुख अरविंदर सिंह लवली ने कहा कि यह  महारैली ‘राजनीतिक’ नहीं होगी बल्कि देश के लोकतंत्र को बचाने और केंद्र के खिलाफ आवाज उठाने का आह्वान होगी।
आम आदमी पार्टी (AAP) के नेता गोपाल राय ने रविवार को कहा कि विपक्षी दलों का गठबंधन ‘इंडिया’ "देश के हितों और लोकतंत्र की रक्षा" के लिए 31 मार्च को दिल्ली के रामलीला मैदान में महारैली करेगा।
 
प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने आबकारी नीति से जुड़े धनशोधन के मामले के संबंध में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (55) को बृहस्पतिवार को गिरफ्तार कर लिया था जिसके बाद उक्त घोषणा की गई है।
 
इंडियन नेशनल डेवलेपमेंटल इन्क्लूसिव एलायंस (‘इंडिया’) के घटक ‘आप’ और कांग्रेस ने यहां एक प्रेस वार्ता में रैली का ऐलान किया।
 
आप की दिल्ली ईकाई के संयोजक राय ने कहा, “ देश में जो हो रहा है उसके खिलाफ हम 31 मार्च को रामलीला मैदान में महारैली करेंगे। इस रैली में ‘इंडिया’ गठबंधन का शीर्ष नेतृत्व शामिल होगा।”
 
राय ने कहा, "लोकतंत्र और देश खतरे में है। देश के हितों और लोकतंत्र की रक्षा के लिए ‘इंडिया’ गठबंधन में शामिल सभी दल यह महारैली करेंगे।"
 
दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरविंदर सिंह लवली ने आरोप लगाया कि विपक्षी दलों को समान अवसर नहीं दिए जा रहे हैं। उन्होंने अपनी पार्टी के खातों को ‘फ्रीज’ (लेनदेन पर रोक) किए जाने और मुख्यमंत्री की गिरफ्तारी पर प्रकाश डाला।
उन्होंने कहा, “ 31 मार्च की महारैली न सिर्फ एक राजनीतिक रैली होगी बल्कि देश के लोकतंत्र को बचाने और भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार के खिलाफ आवाज उठाने का भी आह्वान करेगी।” भाषा
ये भी पढ़ें
INDIA गठबंधन को लेकर जयराम रमेश का दावा, पार करेंगे 272 का आंकड़ा, BJP होगी सत्‍ता से बाहर