साक्षी महाराज के बिगड़े बोल, कहा- आप जिताओगे तो काम करूंगा, नहीं तो मंदिर में जाकर भजन कीर्तन

Last Updated: शनिवार, 13 अप्रैल 2019 (00:30 IST)
उन्नाव (उप्र)। भाजपा सांसद और लोकसभा उम्‍मीदवार ने एक बार दिया है। साक्षी महाराज ने एक चुनावी जनसभा में कहा कि मैं संन्यासी हूं। आप जिताओगे तो काम करूंगा, नहीं तो मंदिर में जाकर भजन-कीर्तन करूंगा।
उन्होंने कहा कि संन्यासी जब किसी के दरवाजे पर आता है और भिक्षा मांगता है, याचना करता है। अगर उसकी बात कोई नहीं मानता है तो वह गृहस्थी के पुण्य ले जाता है और अपने पाप देकर चला जाता है। साक्षी महाराज ने कहा कि यह शास्त्र में लिखा है। साथ ही कहा कि वे धन-दौलत मांगने नहीं आए हैं, वोट मांगने आए हैं जिससे सवा सौ करोड़ देशवासियों की किस्‍मत सुधरनी है।

उन्‍होंने कहा कि आप अपनी कन्‍या का दान करते हैं तो बहुत सोच-समझकर करते हैं, क्‍योंकि इससे कन्‍या का भविष्‍य जुड़ा रहता है। इसी तरह आपके वोट से भी सवा सौ करोड़ देशवासियों का भविष्‍य जुड़ा हुआ है इसलिए बहुत सोच-समझ कर फैसला लेना।
साक्षी माहराज सोहरामऊ थानाक्षेत्र के शेषपुर गांव में रामेश्‍वर बाबा मंदिर पर जनसभा को संबोधित कर रहे थे। नगर मजिस्‍ट्रेट राकेश कुमार गुप्‍ता ने बताया कि साक्षी महाराज के बयान को गंभीरता से लेते हुए उनके विरुद्ध सोहरामऊ थाने में मुकदमा पंजीकृत कराया गया है। (भाषा)

 

और भी पढ़ें :