शंकर लालवानी को चुनौती नहीं मानती कांग्रेस, पंकज संघवी के कार्यालय का उद्‍घाटन

पुनः संशोधित बुधवार, 24 अप्रैल 2019 (22:09 IST)
इंदौर। आगामी लोकसभा चुनाव में भाजपा प्रत्याशी शंकर लालवानी को चुनौती नहीं मानती। कांग्रेस नेताओं ने कहा कि सुमित्रा महाजन होतीं तो स्थिति कुछ और होती। प्रदेश के कैबिनेट मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने सुमित्रा महाजन के शंकर लालवानी के साथ प्रचार को लेकर कहा कि हाथी के दांत खाने के कुछ और होते हैं और दिखाने के कुछ और होते हैं।
सज्जन सिंह वर्मा ने लोकसभा प्रत्याशी पंकज संघवी के मुख्य कार्यालय का उद्‍घाटन करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि प्रज्ञा ठाकुर जैसी महिला साध्वी हेमंत करकरे की शहादत को श्राप का असर कह रही है। साधु-संतों का काम श्राप देना थोड़े है।

मध्यप्रदेश में लोकसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस की स्थिति को लेकर वर्मा ने कहा कि पूरे मालवा और निमाड़ अंचल में कांग्रेस मजबूत है। विधानसभा के चुनाव ने मालवा-निमाड़ ने बता दिया कि बीजेपी की दाल अब नहीं गलने वाली है। कांग्रेस एक बड़ा परिवार है।
वर्मा ने कहा कि पहले प्रचार के लिए प्रियंका गांधी आएंगी, फिर उसके बाद राहुल गांधी आएंगे। पंकज संघवी के चुनावी कार्यालय के उद्‍घाटन के दौरान सभी कांग्रेसी नेता एकजुट‍ दिखाई दिए। मंच पर प्रदेश सरकार के दो मंत्री तुलसी सिलावट और जीतू पटवारी भी मौजूद थे।

 

और भी पढ़ें :