कन्हैया कुमार के भोपाल दौरे पर संशय, कांग्रेस में ही विरोध के सुर

विशेष प्रतिनिधि| पुनः संशोधित बुधवार, 1 मई 2019 (18:10 IST)
भोपाल। उम्मीदवार दिग्विजयसिंह के चुनाव प्रचार के लिए 8 और 9 मई को आने वाले जेएनयू छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष और लेफ्ट नेता के दौरे पर संशय के बादल मंडरा रहे हैं।
सूत्रों के हवाले से खबर है कि सीपीआई ने कन्हैया कुमार को केरल और पश्चिम बंगाल में प्रचार की जिम्मेदारी सौंप दी है, जिससे बाद कन्हैया के भोपाल दौरे पर तलवार लटक गई है। इससे पहले कांग्रेस उम्मीदवार दिग्विजय ने कन्हैया कुमार की तारीफ करते हुए कहा था कि वे कन्हैया के प्रशंसक हैं और कन्हैया 8 और 9 अप्रैल को भोपाल उनके लिए चुनाव प्रचार करने के लिए आ रहे हैं।

वहीं, कन्हैया के दौरे को लेकर भाजपा ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा था कि दिग्विजय टुकड़े-टुकड़े गैंग का समर्थन कर रहे हैं। कन्हैया के दौरे को लेकर कांग्रेस के अंदरखाने में भी विरोध की खबर है।
क्या कहा था दिग्विजय ने : इससे पहले भोपाल लोकसभा सीट से कांग्रेस के प्रत्याशी और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजयसिंह ने कहा था कि वे कन्हैया कुमार के प्रशंसक हैं और कन्हैया साम्प्रदायिकता के खिलाफ लड़ रहे हैं, इसलिए उनका सम्मान होना चाहिए। कन्हैया पर जेएनयू में देश के टुकड़े-टुकड़े वाले कथित बयान पर दिग्विजय ने उनका बचाव करते हुए कहा था कि कन्हैया ने कभी देश विरोधी नारे नहीं लगाए। इसका केवल दुष्प्रचार किया गया।

 

और भी पढ़ें :