भाजपा के 'अमिट' शाह, इस तरह बनाया मोदी को फिर सत्ता का 'शहंशाह'

Last Updated: शनिवार, 25 मई 2019 (22:32 IST)
लोकसभा चुनाव से पहले और उसके ठीक बाद ने कहा था कि भाजपा 300 से ज्यादा सीटें हासिल करेगी और उनकी बात सच भी साबित हुई। भाजपा ने 300 का आंकड़ा पार कर 303 सीटें जीतीं। इसे मोदी-शाह की जुगलबंदी कहें या शाह का कूटनीति चातुर्य, जिसकी
बदौलत एक बार फिर भाजपा नीत एनडीए की सत्ता में वापसी हुई है। आखिर वे कौन से गुण हैं, जो अमित शाह को दूसरे नेताओं से अलग करते हैं-

आज का अर्जुन : अमित शाह की हमेशा महाभारत के अर्जुन की तरह अपने लक्ष्य पर निगाह जमी होती है। असफलता से वे निराश नहीं होते और सफलता मिलने तक अपने लक्ष्य को हासिल करने के लिए पूरे मनोयोग से जुटे रहते हैं।

 

और भी पढ़ें :