शुरू हो रही है World Test Championship, जानिए क्यों निराश हैं विराट कोहली

वेबदुनिया न्यूज डेस्क| पुनः संशोधित मंगलवार, 20 अगस्त 2019 (21:25 IST)
एंटीगा। भारत और वेस्टइंडीज के बीच दो टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला मैच 22 अगस्त से शुरू होने जा रहा है। यह दिन इसलिए भी क्रिकेट इतिहास की रिकार्ड पुस्तिका में दर्ज होगा क्योंकि इसके साथ ही आईसीसी की का आगाज हो जाएगा। पहले टेस्ट मैच से ठीक पहले विराट कोहली ने एक बड़ा बयान देकर सभी को आश्चर्य में डाल दिया है।
विराट का कहना है कि मैं भारतीय बल्लेबाजी से संतुष्ट नहीं हूं। इसके लिए टीम इंडिया के बल्लेबाजों को कड़ी मेहनत करनी होगी। चूंकि वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप की शुरुआत भी इसी मैच से हो रही है, लिहाजा सभी की निगाहें हम पर रहेंगी।
टीम इंडिया के कप्तान ने कहा कि मेरी नजर में भारतीय गेंदबाज सही दिशा में आगे बढ़ रहे हैं और उनके प्रदर्शन से मैं खुश भी हूं लेकिन अभी बल्लेबाजों को अपनी‍ जिम्मेदारी समझनी होगी। मैं मानता हूं कि खिलाड़ियों के लिए टेस्ट स्तर पर बल्लेबाजी मुश्किल होती है परन्तु उन्हें इस चुनौती का साहस के साथ सामना करना होगा।
उन्होंने कहा कि वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप की तारीफ करते हुए कहा कि आईसीसी ने सही वक्त पर इसे शुरू किया है। इससे प्रतिस्पर्धा और बढ़ जाएगी और मैं इससे इत्तफाक नहीं रखता कि टेस्ट क्रिकेट की लोकप्रियता में कमी आई है। इस चैम्पियनशिप के कारण टेस्ट क्रिकेट की लोकप्रियता में इजाफा होगा क्योंकि अंक मिलने के कारण दर्शकों को नीरस ड्रॉ मैच देखने को नहीं मिलेंगे।

उल्लेखनीय है कि वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप के पहले सत्र में एलीट देश यानी भारत, वेस्टइंडीज, ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, न्यूजीलैंड, पाकिस्तान, दक्षिण अफ्रीका, श्रीलंका और बांग्लादेश की टीमें अगले 2 साल में 27 सीरीज के दौरान 71 टेस्ट मैचों में खिताब के लिए चुनौती पेश करेंगी।
चैम्पियनशिप में शीर्ष पर रहने वाली 2 टीमें फाइनल में भिड़ेंगी, जो जून 2021 में इंग्लैंड में खेला जाएगा।

 

और भी पढ़ें :