पिछले टी-20 विश्वकप में पाक के खिलाफ गोल्डन डक पर आउट हुए रैना ने भारत पाक मैच पर दिया यह बयान

पुनः संशोधित शनिवार, 23 अक्टूबर 2021 (14:57 IST)
दुबई: टी-20 विश्वकप 2016 में सिर्फ एक बार मुकाबले में वापस दिखा था। जब मोहम्मद समी की गेंद पर सुरेश रैना अपना विकेट पहली ही गेंद पर गंवा बैठे थे। 23 रनों पर 3 विकेट गंवा दबाव में था। हालांकि इससे पहले रैना ने टी-20 विश्वकप में भारत बनाम पाकिस्तान मैच में अच्छा प्रदर्शन भी किया है।

साल 2014 के विश्वकप में सुरेश रैना ने 4 चौके और 1 छक्के की मदद से 28 गेंदो में 35 रन बनाए थे और भारतीय टीम को जीत की ओर अग्रसर किया था।

भारत के पूर्व बल्लेबाज सुरेश रैना का मानना है कि संयुक्त अरब अमीरात में आईपीएल (इंडियन प्रीमियर लीग) खेलने का अनुभव विराट कोहली की अगुवाई वाली टीम को आईसीसी में अपने चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान के खिलाफ बहुप्रतीक्षित मैच में ‘बेहतर स्थिति’ में रहने में मदद करेगा।

खिताब जीतने के प्रबल दावेदारों में से एक भारत रविवार को यहां पाकिस्तान के खिलाफ टी20 मुकाबले में अपने अभियान की शुरुआत करेगा। भारतीय टीम इस टूर्नामेंट में पाकिस्तान से अभी तक एक बार भी नहीं हारी है।

रैना ने (आईसीसी) के लिए अपने कॉलम में लिखा, ‘‘ आईपीएल का शुक्रिया, हमारी टीम को यूएई में खेलने और वहां की परिस्थितियों से निपटने का बहुत अनुभव है जो उन्हें बेहतर स्थिति में रखेगा।’’भारतीय टीम के पास युवा और अनुभव का अच्छा मिश्रण है और उनमें से कई अपने दम पर मैच जीतने में सक्षम हैं।

रैना ने कहा, ‘‘ भारतीय दृष्टिकोण से अच्छी बात यह है कि विराट के साथ टीम में नेतृत्व क्षमता वाले रोहित शर्मा और रविंद्र जडेजा जैसे अनुभवी खिलाड़ी है । यह टीम को काफी मजबूत बनाते हैं।’’भारतीय खिलाड़ी आईपीएल के दूसरे चरण में भाग लेने के बाद विश्व कप में खेलेंगे। भारत में कोविड-19 महामारी के कारण इसका आयोजन यूएई में किया गया था।

रैना जानते हैं कि विराट कोहली और बाबर आजम दोनों कप्तान बहुत जज्बाती है और खुद शानदार प्रदर्शन की मिसाल पेश कर नेतृत्व करना पसंद करते हैं।उन्होंने कहा, ‘‘इस साल, यह रोमांचक होगा क्योंकि विराट कोहली और बाबर आजम दोनों ही अच्छे कप्तान हैं। दोनों इस मैच के महत्व को समझते हुए जुनून और जज्बे से भरे होगें।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ बाबर टी20 अंतरराष्ट्रीय में दुनिया के शीर्ष बल्लेबाज है। कोहली की तरह उन्होंने भी साबित किया है कि शानदार बल्लेबाजी और कप्तानी एक साथ की जा सकती है। बाबर की मदद के लिए टीम में मोहम्मद हफीज और शोएब मलिक जैसे अनुभवी खिलाड़ी मौजूद है।’’

रैना ने कहा, ‘‘ एक तरफ विराट और दूसरे तरफ बाबर के होने से यह बहुत अच्छा मुकाबला होगा। वे दोनों वास्तव में प्रतिस्पर्धी खिलाड़ी हैं जो जानते हैं कि प्रतिद्वंद्विता क्या है।’’रैना खुद भी टी20 और एकदिवसीय विश्व कप में भारत-पाकिस्तान मैचों का हिस्सा रहे हैं।

उन्होंने कहा, 'पाकिस्तान के खिलाफ मैचों में मेरा अनुभव यह रहा है कि उन्होंने हमेशा अपने दिल से खेला है।’’उन्होंने कहा, ‘‘मैं 2014 और 2016 में उनके खिलाफ विश्व कप में खेला। अगर आप एक खिलाड़ी के तौर पर मुझसे पूछें तो यह हमेशा दबाव वाला मैच होता है।’’



और भी पढ़ें :