सुनील गावस्कर ने की मांग, ड्रॉ होने पर आईसीसी को विजेता चुनने का तरीका तलाशना चाहिए

पुनः संशोधित मंगलवार, 22 जून 2021 (18:58 IST)
आईसीसी का मैच डे बाई डे ड्रॉ की ओर बढ़ रहा है, जिसका बड़ा कारण है साउथम्पटन का खराब मौसम यानि बारिश। आज मैच का पांचवां दिन है, मगर अब तक सिर्फ 2 ही दिन का गेम खेला जा सका है, जिसमें भी खराब रौशनी ने बाधा उत्पन्न की है।

अब दिग्गज खिलाड़ियों द्वारा ये बयान सामने आने लगे हैं कि ये मैच ड्रॉ की तरफ बढ़ रहा है। हाल ही में भारत के पूर्व कप्तान ने भी ऐसा ही कुछ कहा। उनका मानना है कि भारत और न्यूजीलैंड के बीच टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल मैच यदि बारिश के चलते ड्रॉ होता है, तो आईसीसी को विजेता के चयन के लिए तरीका तलाशना चाहिए।
शुरुआती दिन के मैच के बारिश से धुलने के बाद ही आईसीसी ने बता दिया था कि 23 जून को रिजर्व डे पर मैच खेला जाएगा। मगर अब तो रिजर्व डे के इस्तेमाल के बाद भी विजेता सामने आना मुश्किल हो चुका है। गावस्कर ने 'आज तक' से बात करते हुए कहा, ''विश्व टैस्ट चैम्पियनशिप फाइनल ड्रॉ रहने पर विजेता के चयन का कोई फॉर्मूला होना चाहिए। आईसीसी क्रिकेट समिति को सोच विचार करके इस पर फैसला लेना चाहिए।''
आईसीसी पहले ही कह चुकी है कि मैच ड्रॉ रहने पर दोनों टीमों को संयुक्त विजेता घोषित किया जाएगा। इस सत्र में नियम में बदलाव संभव नहीं है।

गावस्कर ने कहा, ''ऐसा लगता है कि डब्लयूटीसी फाइनल ड्रॉ रहेगा। पहली बार किसी फाइनल में संयुक्त विजेता होंगे। दो दिन में तीन पारियां पूर हो पाना संभव नहीं है।''

अभी तक फाइनल में 141.1 ओवर फेंके गए हैं जबकि 196 ओवर बाकी हैं। आगे गावस्कर ने दूसरे खेलों का उदाहरण पेश करते हुए फाइनल में विजेता के चयन को लेकर टिप्पणी की।

उन्होंने कहा, ''फुटबॉल में पेनल्टी शूटआउट होता है। टेनिस में पांच सेट और टाइब्रेकर होते हैं। इसी तरह का कुछ तरीका तलाशना चाहिए।''



और भी पढ़ें :