विश्व कप में सचिन से आगे निकलना कोहली के लिए टेढ़ी खीर

Last Updated: शुक्रवार, 24 मई 2019 (18:34 IST)
जब संन्यास ले रहे थे तो सुनील गावस्कर ने कहा था कि विराट कोहली उनके वनडे शतक के रिकॉर्ड को तोड़ सकते हैं। तब विराट के सिर्फ 17 शतक थे लेकिन अब उन्होंने 40 शतक बना डाले हैं। जिस रफ्तार से विराट बल्लेबाजी कर रहे हैं आशचर्य नहीं होना चाहिए कि वह अगले साल सचिन तेंदुलकर के शतकों का रिकॉर्ड तोड दे।
हालांकि में कहानी कुछ और है। विराट कोहली को सचिन तेंदुल्कर की बराबरी पर आने के लिए काफी इंतजार करना पड़ेगा। रनों के लिहाज से दोनों में काफी अंतर है। 
 
गौरतलब है कि सचिन तेंदुलकर भारत की ओर से विश्वकप में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाजों में शुमार है। उन्होंने कुल 6 विश्वकप खेले हैं जिसमें उन्होंने 45 मैचों में शिरकत की है। सचिन ने 2278 रन बनाए हैं जिसमें 6 शतक और 15 अर्धशतक शामिल है। 
 
वहीं अगर विराट कोहली की बात करें तो उन्होंने पहला विश्वकप 2011 में और दूसरा 2015 में खेला था। कुल 17 मैचों में उन्होंने 587 रन बनाए हैं। इसमें 2 शतक और 1 अर्धशतक शामिल है। अजूबा कर वह शतक के मामले में सचिन से बराबरी कर भी लें लेकिन रनों का रिकॉर्ड तोड़ना काफी मुश्किल लग रहा है।
 
अगर विराट को सचिन के विश्वकप का रिकॉर्ड तोड़ना है तो फिर उन्हें 1600 से ज्यादा रन बनाने पड़ेगें इसके लिए उन्हें कम से कम अगले विश्वकप में भी धुआंधार  बल्लेबाजी करनी पड़ेगी।
  मैच रन औसत शतक अर्धशतक
सचिन तेंदुलकर 45 2278 56.95 6 15
विराट कोहली 17 587 41.1 1 2
>

 

और भी पढ़ें :