रवीन्द्र जड़ेजा होने लग गए हैं बाकी बल्लेबाजों पर हावी, इस पूर्व भारतीय क्रिकेटर ने की तारीफ़

Last Updated: शनिवार, 19 जून 2021 (12:51 IST)
मुंबई:पूर्व भारतीय बल्लेबाज ने कहा है कि भारतीय ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा ने अपनी शैली से बल्लेबाजों को पस्त करने के तरीके में काफी सुधार किया है और वह अब पहले की तुलना में बल्लेबाजों पर बहुत ज्यादा हावी होने लगे हैं।
लक्ष्मण ने स्टार स्पोर्ट्स के कार्यक्रम ‘ क्रिकेट कनेक्टेड ’ पर विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) फाइनल के बारे में बातचीत के दौरान कहा, “ रवींद्र जडेजा उनके लिए एक पूरा पैकेज हैं और स्पिनर के संदर्भ में रविचंद्रन अश्विन उनकी पहली पसंद हैं। जिस तरह से उन्होंने ऑस्ट्रेलिया में गेंदबाजी की, उससे उन्होंने विपक्षी लाइन-अप में सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज स्टीवन स्मिथ पर दबाव डाला और उन्हें लगातार आउट किया और यही एक कारण था कि भारत ने उस टेस्ट सीरीज को जीता। इससे पता चलता है कि अश्विन बहुत प्रतिभाशाली हैं, बहुत कुशल है और अब उन्हें विदेशी परिस्थितियों में भी प्रदर्शन करने का आत्मविश्वास मिल गया है, इसलिए वह मेरी पहली पसंद के स्पिनर होंगे। आप रवींद्र जडेजा को भी भूल नहीं सकते हैं। वह न केवल एक स्पिनर हैं जो उपयोगी परिस्थितियों में गेंदबाजी कर सकते हैं, बल्कि पिछले दो वर्षों में उन्होंने अपनी शैली, फ्लाइट गेंदबाजी और गति में बदलाव से बल्लेबाज को मात देने में काफी सुधार किया है, इसलिए मुझे लगता है कि वह मेरे लिए एक संपूर्ण पैकेज हैं। ”
पूर्व भारतीय बल्लेबाज ने कहा, “ मेरे हिसाब से डब्ल्यूटीसी फाइनल में सबसे अहम फैसला यह होगा कि रोहित शर्मा के साथ कौन ओपनिंग करेगा, क्योंकि हमारे पास दो दावेदार हैं। ये दोनों ही बहुत प्रतिभाशाली बल्लेबाज हैं, जिन्हें अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट न खेलने के बावजूद इंग्लैंड में खेलने का अनुभव भी मिला। ये दोनों खिलाड़ी दो साल पहले एक श्रृंखला में भारत ए के लिए खेले थे। मुझे लगता है कि यह सबसे महत्वपूर्ण फैसला है, क्योंकि तेज गेंदबाजी विभाग में काफी गहराई और अनुभव है। ”
लक्ष्मण ने के चयन के बाद इशांत शर्मा के समर्थन करने की वजह बताते हुए कहा, “ मोहम्मद सिराज ने ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू टेस्ट श्रृंखला में जिस तरह से प्रदर्शन किया उसके लिए उनकी सराहना करना बनता है, लेकिन मुझे लगता है कि जिस तरह से इशांत शर्मा ने भारतीय टीम की सफलता और प्रगति में योगदान दिया है, हम उसे कम नहीं आंक सकते, इसलिए मैं निश्चित रूप से अनुभव के साथ जाऊंगा। यह एक ही टेस्ट मैच है और यह विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल है।
मैं इशांत शर्मा का समर्थन करूंगा, क्योंकि इतने वर्षाें में उन्होंने भारतीय टीम में बहुत योगदान दिया है और हमने देखा है कि वह सच में समूह के नेता हैं। मैं यह भी समझता हूं कि जसप्रीत बुमराह मोहम्मद शमी के साथ एक घातक गेंदबाज के रूप में उभरे हैं, लेकिन मैं इस महत्वपूर्ण फाइनल में इशांत शर्मा का समर्थन करूंगा। ”

गौरतलब है कि रविंद्र जड़ेजा को हनुमा विहारी के स्थान पर खिलाया गया है। शायद वीवीएस लक्ष्मण जैसा टीम मैनेजमेंट भी सोचता है क्योंकि बल्लेबाजी में जड़ेजा ने काफी सुधार दिखाया है। वहीं गेंदबाजी तो वह विहारी से बेहतर कर ही सकते हैं। इसके अलावा कई बार वह मैदान में फी्ल्डिंग के वक्त ऐसा कमाल कर जाते हैं कि मैच का रुख बदल जाता है।(वार्ता)



और भी पढ़ें :