ओवल टेस्ट में ऐतिहासिक जीत के बाद भी कोहली शास्त्री से नाराज है बीसीसीआई

Last Updated: मंगलवार, 7 सितम्बर 2021 (13:00 IST)
ओवल टेस्ट में शानदार जीत हासिल करने के बाद भी भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड, कप्तान विराट कोहली और मुख्य कोच रवि शास्त्री से नाराज है। दरअसल इसकी वजह एक समारोह है जिसमें रवि शास्त्री और विराट कोहली शरीक होने गए थे।

लंदन में पिछले हफ्ते हुए इस पब्लिक इवेंट में रवि शास्त्री और विराट कोहली शामिल हुए थे। एक अंग्रेजी अखबार को दी गई जानकारी के अनुसार बीसीसीआई के अधिकारी ने कहा कि इस कार्यक्रम की तस्वीरें बीसीसीआई के अधिकारियों के साथ साझा हुई हैं। इस मामले के कारण बोर्ड शर्मिंदा हुआ है। कोच और कप्तान से इस मसले पर चौथे टेस्ट के बाद सवाल जवाब किए जाएंगे।

बुधवार को टी-20 विश्वकप के लिए चयनकर्ताओं की एक मीटिंग भी है। ऐसी संभावना है कि इस मुद्दे को वहां भी उठाया जाए। अधिकारी ने कहा कि टीम के प्रशासनिक गिरीश डोंगरे की भूमिका पर भी जांच हो सकती है।

ब्रिटिश मीडिया के मुताबिक भारतीय टीम ने इस कार्यक्रम के लिए इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड से क्लीयरेंस नहीं ली थी। मेहमान टीम यानि की भारतीय टीम को ऐसी जगह जाने की इजाजत थी जहां पर कम भीड़ भाड़ हो लेकिन एक ऐसे आयोजन में शामिल होना जहां काफी भीड़ है, यह बड़ी

लापरवाही माना जा रहा है। विराट कोहली और शास्त्री की इस हरकत के कारण दोनों ही बोर्ड को परेशानी में डाल दिया है।

अधिकारी ने आगे जानकारी दि की टीम के सदस्यों को बीसीसीआई सचिव जय शाह ने भीड़भाड़ वाले इलाके में ना जाने की हिदायत दी थी। कप्तान और कोच के इस कदम से बोर्ड काफी नाराज है।

हालांकि यह साफतौर पर नहीं कहा जा सकता कि कोच रवि शस्त्री इस कार्यक्रम में जाने के बाद की कोरोना पॉजिटिव हुए हैं। लेकिन शास्त्री के इस कदम से टीम के बाकी सदस्यों को भी खतरे में डाला है। टीृ20 विश्वकप के बाद रवि शास्त्री का करार खत्म होने वाला है।

गौरतलब है कि रवि, श्रीधर, भरत और फिजियोथेरेपिस्ट नितिन पटेल शनिवार को रैपिड एंटीजन टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए थे, जिसके बाद उन्हें एहतियात के तौर पर आइसोलेशन में भेज दिया गया था।

अब भारत और इंग्लैंड की दोनों टीमें मैनचेस्टर में ज्यादा कड़े बायोबबल में जाएंगीं। अधिकारी ने कहा कि पांचवे टेस्ट में बायोबबल के नियम ज्यादा कड़े होंगे। पांचवे टेस्ट के 5 दिन बाद आईपीएल भी शुरु हो रहा है इसके बाद टीमों को एक के बाद दूसरे बायोबबल में प्रवेश करना होगा।(वेबदुनिया डेस्क)



और भी पढ़ें :