विराट ने कहा, जैसे ही गेंद हुई रिवर्स स्विंग बुमराह ने खुद आकर मांगी गेंद और पलट गया मैच (वीडियो)

Last Updated: मंगलवार, 7 सितम्बर 2021 (13:54 IST)
लंदन: इंग्लैंड के खिलाफ चौथे टेस्ट की पहली पारी में 99 रन से पिछड़ने के बावजूद शानदार वापसी करते हुए 157 रन से जीत दर्ज करने के बाद भारतीय कप्तान विराट कोहली ने कहा कि एक कप्तान के रूप में उन्होंने जितना भी देखा है यह उसमें भारतीय टीम के शीर्ष तीन गेंदबाजी प्रदर्शनों में से एक है।

‘द ओवल’ मैदान पर मैच के आखिरी 2 दिन तेज गेंदबाजों को मदद नहीं मिल रही थी, लेकिन जसप्रीत बुमराह, उमेश यादव और शार्दुल ठाकुर ने कुल 7 विकेट चटकाकर इंग्लैंड की दूसरी पारी को 210 रन पर समेट दिया।

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने इंग्लैंड से चौथा टेस्ट आज पांचवें और आखिरी दिन 157 रन से जीतने और सीरीज में 2-1 की बढ़त बनाने के बाद कहा कि उन्हें पूरा यकीन था कि उनके सभी 10 विकेट निकाले जा सकते हैं।

विराट ने मैच समाप्त होने के बाद कहा,' टीम ने अपना एक चरित्र दिखाया जो सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है। हम इस मैच में बचने की कोशिश नहीं कर रहे थे। हम यहां जीतने आये हैं। उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि दोनों मैचों (लॉर्ड्स और ओवल) में सबसे अच्छी बात टीम का जज्बा दिखाना रहा है। हम कभी मैच को बचाने (ड्रॉ) की मानसिकता से नहीं खेलते हैं। हम जीतने के लिए खेलते हैं और टीम ने जो जज्बा दिखाया है, उस पर वास्तव में गर्व है।
एक कप्तान के रूप में यह मेरे लिए तीन सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी प्रदर्शनों में से एक है।आप इस विकेट को सपाट विकेट कह रहे थे। हालात गर्म थे लेकिन हम जानते थे कि हमारे पास मौका है जब जडेजा रफ में गेंद डाल रहे थे। हमारे गेंदबाज आज के साथ बेहतरीन थे। हमें पूरा यकीन था कि हम इंग्लैंड के सभी 10 विकेट निकाल लेंगे।'

कप्तान ने कहा ,'बॉल ने जैसे ही रिवर्स स्विंग लेना शुरू किया तो बुमराह ने कहा मुझे बॉल दो। उन्होंने वह स्पैल बेहतरीन डाला और दो बड़े विकेट लेकर मैच हमारे पक्ष में मोड़ दिया। रोहित की दूसरी पारी जबरदस्त थी। शार्दुल ने इस मैच में कमाल का प्रदर्शन किया। उनके दो अर्धशतकों ने विपक्षी टीम की हालत खराब कर दी। उन्होंने दोनों पारियों में शानदार बल्लेबाजी की।'

विराट ने कहा,'हम विश्लेषण, आंकड़ों और नंबर में कभी नहीं जाते हैं। हम जानते हैं कि हमें अपना ध्यान केंद्रित रखना है और एक समूह के रूप में समग्र फैसला लेना है। '

कोच रवि शास्त्री को कोरोना होने के कारण यहां नहीं होने को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए विराट ने कहा,' यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि रवि शास्त्री और सपोर्ट स्टाफ के तीन सदस्य यहां नहीं हैं। इससे हमें अगला टेस्ट जीतने के लिए और प्रेरणा मिलेगी। हमारे अंदर आत्मविश्वास है , हमें केवल मौकों का इन्तजार है। '

उन्होंने दर्शकों की तारीफ़ करते हुए कहा कि यहां प्रशंसक काफी शानदार थे।



और भी पढ़ें :