बद्तमीज दर्शकों ने फेंकी गुलाबी गेंद तो सिराज ने हाथों से किया 1-0 का इशारा (वीडियो)

पुनः संशोधित गुरुवार, 26 अगस्त 2021 (11:00 IST)
लीड्स:तीसरे टेस्ट में भी के दर्शकों का बुरा बर्ताव टीम इंडिया के खिलाड़ियों के खिलाफ जारी है। बल्लेबाज ने बुधवार को खुलासा किया कि इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे टेस्ट क्रिकेट मैच के पहले दिन तेज गेंदबाज पर दर्शकों ने गेंद फेंकी थी।

यह वाक्या पहले टेस्ट के अंतिम ओवरों के दौरान हुआ। सिराज के पास में दर्शकों ने कुछ फेंका और कमेंटेटर ने यह बात टीवी पर मैच देख रहे दर्शकों को बताई।


गेंद के बाद यह देखा गया कि लेग साइड का अंपायर गुलाबी गेंद को मैदान से बाहर निकालने की कोशिश कर रहा था। इस पर कमेंटेटर संजय मांजरेकर ने तंज कसते हुए कहा कि तीसरा टेस्ट तो पिंक बॉल टेस्ट बन गया।

टीवी कैमरों में दिखाया गया था कि भारतीय कप्तान विराट कोहली उस समय सीमा रेखा पर खड़े सिराज को उस वस्तु को बाहर फेंकने के लिये कह रहे हैं। दिन का खेल समाप्त होने के बाद इस बारे में जब पंत से पूछा गया तो उन्होंने खुलासा किया कि तब क्या हुआ था।
पंत ने कहा, ‘‘मुझे लगता (दर्शकों में से) किसी ने सिराज पर गेंद मारी थी इसलिए वह (कोहली) नाराज थे। आप जो कुछ भी कहना चाहते हैं कह सकते हैं, लेकिन क्षेत्ररक्षकों पर चीजें न फेंके। मेरा मानना है कि यह क्रिकेट के लिये अच्छा नहीं है। ’’सिराज ने लार्ड्स में खेले गये दूसरे टेस्ट मैच में भारत की जीत में अहम भूमिका निभायी थी।

हालांकि इसके बाद सिराज ने दर्शकों की ओर 1-0 का इशारा किया कि और बताया कि भारत सीरीज में 1-0 से आगे है।
लॉर्ड्स टेस्ट में भी फेंके गए थे कॉर्क
लार्ड्स टेस्ट के दौरान भी सीमा रेखा के करीब शैंपेन की बोतल के ढक्कन फेंके गये थे। उस समय केएल राहुल वहां पर क्षेत्ररक्षण कर रहे थे और कोहली उस घटना से भी नाराज थे।भारत की पहली पारी में शतक जड़ने वाले केएल राहुल पर इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट के तीसरे दिन लंच से पूर्व सत्र के दौरान दर्शकों के स्टैंड से बोतल का ‘कॉर्क’ फेंका गया था।

मोहम्मद शमी ने यह ओवर फेंका था जिसकी चौथी गेंद के बाद राहुल पर यह कॉर्क फेंका गया जो सीमारेखा के करीब क्षेत्ररक्षण कर रहे थे।भारतीय कप्तान विराट कोहली इस घटना से खुश नहीं थे और उन्होंने राहुल को इसे बाहर फेंकने का निर्देश दिया था।

ऑस्ट्रेलिया में भी सिराज के पीछे पड़ गए थे दर्शक

इस 27 वर्षीय तेज गेंदबाज को इस साल के शुरू में सिडनी में आस्ट्रेलियाई दर्शकों ने भी अपशब्द कहे थे जिसके कारण कुछ दर्शकों को स्टेडियम से बाहर कर दिया गया था। गौरतलब है कि मोहम्मद सिराज को ऑस्ट्रेलिया में एक नहीं दो नहीं बल्कि तीन तीन बार नस्लीय टिप्पणियों का सामना करना पड़ा था। दूसरा टेस्ट हारने के बाद ऑस्ट्रेलियाई दर्शक तो उनके पीछे पड़ गए, सिडनी में बिग मंकी कहा तो ब्रिस्बेन में ग्रब।



और भी पढ़ें :