खटाई में पड़ी भारत-पाकिस्तान वन-डे सीरीज, BCCI को सरकार के जवाब का इंतजार

Last Updated: गुरुवार, 12 सितम्बर 2019 (23:56 IST)
नई दिल्ली/ कराची। भारत और पाकिस्तान के बीच चल रहे तनावों का असर अब दोनों देशों के बीच खेल संबंधों पर भी नजर आ रहा है। के भारत दौरे के स्थगित होने की संभावना है, क्योंकि (BCCI) को अब तक नवंबर में इस श्रृंखला के आयोजन को लेकर केंद्र सरकार से कोई निर्देश नहीं मिला है।
ALSO READ:
Mahendra Singh Dhoni : कितनी सही है धोनी के रिटायरमेंट की खबर?

यह दौरा आईसीसी (ICC) महिला चैंपियनशिप का हिस्सा है। इस चैंपियनशिप के तहत भारतीय महिला टीम को तीन मैचों की एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय श्रृंखला के लिए पाकिस्तान की मेजबानी करनी है। दोनों देशों के बीच मौजूदा तनावपूर्ण हालात को देखते हुए भारतीय क्रिकेट बोर्ड सरकार के निर्देशों का इंतजार करेगा, क्योंकि वे काफी पहले ही इसकी जानकारी दे चुके हैं।
पीसीबी (PCB) के अधिकारी ने आरोप लगाया कि हमें अब भी जवाब का इंतजार है, क्योंकि को इस साल नंवबर में महिला श्रृंखला की मेजबानी करनी है। ऐसा लग रहा है कि यह श्रृंखला भी रद्द हो सकती है क्योंकि ऐसा नहीं लग रहा कि की महिला टीम की मेजबानी का इच्छुक है।
BCCI ने हालांकि कहा कि उन्होंने दौरे की स्वीकृति मांग है और केंद्र सरकार के हरी झंडी नहीं देने तक वे अधिक कुछ नहीं कर सकते। के एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम जाहिर नहीं करने की शर्त पर बताया कि सरकार से जवाब मिलने के बाद ही हम इस मामले को आगे बढ़ा सकते हैं।
हम सभी जानते हैं कि पाकिस्तान के खिलाफ द्विपक्षीय श्रृंखला पर BCCI अकेले फैसला नहीं कर सकता। हमें सरकार के निर्देशों का पालन करना होगा।
सूत्रों के अनुसार आईसीसी ने उन्हें इंतजार करने के लिए कहा है, क्योंकि पाकिस्तान की महिला टीम की मेजबानी के लिए समय जुलाई से नवंबर के बीच है।

अगर भारत पाकिस्तान की मेजबानी नहीं करता है तो PCB
चाहता है कि ICC इस श्रृंखला के अंक उन्हें दे। ऐसी स्थिति में BCCI के उनके दावे का इस आधार पर विरोध करना तय है कि आयोजन इस समय उनके नियंत्रण से बाहर है।

 

और भी पढ़ें :