फिरोज शाह कोटला का नाम हुआ अरुण जेटली स्टेडियम, विराट कोहली के नाम पर पैवेलियन

पुनः संशोधित शुक्रवार, 13 सितम्बर 2019 (00:34 IST)
नई दिल्ली। दिल्ली क्रिकेट के लिए आज ऐतिहासिक दिन था। पूर्व वित्त मंत्री दिवंगत अरुण जेटली के नाम पर राजधानी के फिरोजशाह कोटला स्टेडियम का नाम अरुण जेटली स्टेडियम रख दिया गया और स्टेडियम के एक पैवेलियन का नाम मौजूदा भारतीय कप्तान विराट कोहली के नाम पर रखा गया।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, केंद्रीय खेल मंत्री किरेन रिजिजू और दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (DDCA) के अध्यक्ष रजत शर्मा ने जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम स्थित भारोत्तोलन हॉल में आयोजित एक समारोह में फिरोजशाह कोटला स्टेडियम का नाम अरुण जेटली स्टेडियम रखने की घोषणा की और साथ ही स्टेडियम के एक पैवेलियन का नाम भी रख दिया।
समारोह में भारतीय कप्तान विराट और पूरी टीम इंडिया मौजूद थी। शाह ने इस मौके पर कहा कि अरुणजी के लिए यह एक सच्ची श्रद्धांजलि है जिसके लिए डीडीसीए बधाई की पात्र है।
कभी नहीं सोचा था नाम पर होगा पैवेलियन : विराट ने इस अवसर को अपने लिए अभूतपूर्व सम्मान बताते हुए कहा कि इतने बड़े मंच पर मुझे यह सम्मान दिया जाएगा यह मैंने अपने जीवन में कभी सोचा नहीं था। मैं इसके लिए अमित शाह, रजत शर्मा, डीडीसीए, बीसीसीआई, अपनी पूरी टीम और अपने परिवार का धन्यवाद करना चाहता हूं।

मैं अपने बचपन के कोच राजकुमार सर को भी धन्यवाद देना चाहता हूं जिनकी बदौलत मैं यहां तक पहुंच पाया। विराट ने कहा कि एक समय मैं इस स्टेडियम में अपने भाई के साथ मैच देखने आया था और जाली के पास खड़ा होकर खिलाड़ियों के ऑटोग्राफ मांग रहा था। मैंने कभी नहीं सोचा था कि इस स्टेडियम में मेरे नाम पर पैवेलियन होगा।

ALSO READ:
साउथ अफ्रीका के खिलाफ 3 टेस्टों की सीरीज के लिए टीम इंडिया का ऐलान, शुभमन गिल को मिला मौका
समारोह में विराट के बचपन से लेकर अब तक के क्रिकेट सफर को एक एनिमेटेड फिल्म के जरिए पेश किया गया। विराट के साथ उनकी पत्नी अनुष्का शर्मा भी मौजूद थीं।

गुरुवार शाम को हुए इस समारोह में पूरी भारतीय क्रिकेट टीम के सदस्य रोहित शर्मा, रवींद्र जडेजा, हार्दिक पांड्या, लोकेश राहुल, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, ऋषभ पंत, क्रुणाल पांड्या, वॉशिंगटन सुंदर, राहुल चाहर, खलील अहमद, दीपक चाहर, नवदीप सैनी और कोच रवि शास्त्री मौजूद थे। DDCA की तरफ से इन सभी खिलाड़ियों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।

समारोह में जब फिरोजशाह कोटला का नाम अरुण जेटली स्टेडियम रखने की घोषणा हुई तो पूरा हॉल तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा। शाह, रिजिजू, रजत और जेटली के परिवार के सदस्यों ने अरुण जेटली नाम का अनावरण किया। गृहमंत्री ने जेटली के परिजनों को मंच पर स्मृति चिन्ह प्रदान किए।

अरुण जेटली स्टेडियम में विराट कोहली पैवेलियन का अनावरण शाह और विराट ने बटन दबाकर किया। विराट इस तरह पहले ऐसे सक्रिय क्रिकेटर बन गए हैं जिनके नाम पर किसी स्टेडियम में पैवेलियन का नाम रखा गया हो।

इस समारोह में भारत के पहले विश्व कप विजेता कप्तान कपिल देव, केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल, पूर्व खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़, बीसीसीआई के कार्यवाहक अध्यक्ष सीके खन्ना, बीसीसीआई का संचालन देख रही प्रशासकों की समिति के अध्यक्ष विनोद राय, पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज चेतन चौहान और वीरेंद्र सहवाग, दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी, सांसद गौतम गंभीर, बीसीसीआई के पूर्व अध्यक्ष तथा केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर मौजूद थे।

आईपीएल को बनाने में अरुण जेटली की खास भूमिका : अमित शाह ने कहा कि जब हम इस कार्यक्रम की भूमिका बना रहे थे तब अरुणजी हमारे बीच मौजूद थे, लेकिन आज जब यह कार्यक्रम हो रहा है तब वे हमारे बीच मौजूद नहीं है।

उन्हें क्रिकेट से अभूतपूर्व लगाव था और वे क्रिकेट की गहरी समझ रखते थे। आज आईपीएल जिस ऊंचे मुकाम पर है और जिस आईपीएल से हजारों युवा खिलाड़ियों को अपनी प्रतिभा दिखाने का मंच मिलता है, उस आईपीएल को बनाने में अरुणजी की महत्वपूर्ण भूमिका रही थी। हम यहां उनके नाम पर अरुण जेटली स्टेडियम का नाम रख रहे हैं। यह उनके प्रति हम सभी की तरफ से सच्ची श्रद्धांजलि है। मैं इसके लिए डीडीसीए और रजत शर्मा को बधाई देता हूं।
समारोह में डीडीसीए ने अपने मौजूदा खिलाड़ियों को भी सम्मानित किया।

(Photo courtesy : Twitter)


 

और भी पढ़ें :