आईसीसी महिला टी20 विश्व कप टूर्नामेंट में सुरक्षित दिन चाहते हैं मिशेल स्टार्क

पुनः संशोधित शनिवार, 7 मार्च 2020 (18:57 IST)
मेलबर्न। ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज ने शनिवार को कहा कि आईसीसी को इस साल के आखिर में होने वाले पुरुष टी20 सहित सभी विश्व कप नाकआउट मैचों के लिए एक अतिरिक्त दिन की व्यवस्था करनी चाहिए।

इंग्लैंड की टीम सेमीफाइनल खेले बिना ही महिला से बाहर हो गई क्योंकि के खिलाफ उसका मैच से धुल गया था। हरमनप्रीत कौर की अगुवाई वाली भारतीय ग्रुप चरण में शीर्ष पर रही थी जिससे वह फाइनल में पहुंच गई।

स्टार्क ने Cricket.Com.au से कहा, ‘मेरे विचार में यह नियम समझ से परे है। अगर दोनों मैच बारिश से धुल जाते तो सुरक्षित दिन नहीं रखने के लिए सभी आईसीसी पर चिल्ला रहे होते।’

भारत के खिलाफ महिला टी20 विश्व कप फाइनल में अपनी पत्नी एलिसा हीली का उत्साहवर्धन करने के लिए दक्षिण अफ्रीका दौरा बीच में छोड़कर स्वदेश लौटने वाले स्टार्क ने विश्व कप टूर्नामेंट में नाकआउट मैचों के लिए अतिरिक्त दिन सुरक्षित रखने की वकालत की।

उन्होंने कहा, ‘मैंने सुना है कि हमारे लिए भी ऐसा ही नियम है। मैं नियमों में बदलाव नहीं कर सकता। यह आईसीसी का काम है। अगर हमारा विश्व कप भी इसी तरह से खेला जाना है तो विश्व कप और अन्य विश्व प्रतियोगिताओं के लिए इस मामले में गौर करने की जरूरत है। ऑस्ट्रेलिया 18 अक्टूबर से 15 नवंबर के बीच पुरुष टी20 विश्व कप की मेजबानी करेगा।


और भी पढ़ें :