Lokesh Rahul को विकेटकीपिंग से बल्लेबाजी में मिली मदद

पुनः संशोधित शुक्रवार, 24 जनवरी 2020 (22:41 IST)
ऑकलैंड। के साथ बल्लेबाजी करना चुनौतीपूर्ण है लेकिन भारतीय खिलाड़ी ने शुक्रवार को कहा कि वह अतिरिक्त जिम्मेदारी का ‘लुत्फ उठा रहे हैं’ क्योंकि इससे अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने में मदद मिल रही है।

राहुल ने 27 गेंद में 56 रन की ताबड़तोड़ पारी खेलने के अलावा कप्तान विराट कोहली (45) के साथ 99 रन की साझेदारी की जिससे न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले टी20 अंतरराष्ट्रीय में भारत ने 204 रन के लक्ष्य को 4 विकेट गंवाकर हासिल किया।

राहुल ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पिछली एकदिवसीय श्रृंखला में नियमित विकेटकीपर ऋषभ पंत के चोटिल होने के बाद विकेट के पीछे की जिम्मेदारी संभाली। श्रृंखला में उन्होंने विकेट के पीछे और बल्ले से शानदार योगदान दिया जिसके बाद कोहली ने कहा था कि वह इस दोहरी जिम्मेदारी को जारी रखेंगे क्योंकि इससे टीम का संतुलन सही बन जाता है।

न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले टी20 के बाद राहुल से जब इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘ईमानदारी से कहूं तो मुझ यह अच्छा लग रहा है। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर यह नया लग सकता है लेकिन मैं पिछले 3-4 वर्षों से अपनी आईपीएल फ्रैंचाइजी के लिए यह काम कर रहा हूं। जब भी मौका मिलता है तो मैं अपनी प्रथम श्रेणी की टीम के लिए यह करता रहता हूं। मैं विकेटकीपिंग का अभ्यास करता रहता हूं।’
उन्होंने कहा, ‘मुझे विकेट के पीछे रहना पसंद है क्योकि इससे पिच का अंदाजा मिल जाता है। मैं इससे जुड़ी जानकारी गेंदबाजों और कप्तान को देता हूं और कप्तान उसी मुताबिक क्षेत्ररक्षण लगाते हैं।’

राहुल ने कहा, ‘एक बल्लेबाज के तौर पर भी 20 ओवर तक कीपिंग करने के बाद आपको अंदाजा हो जाता है कि पिच पर कैसा शॉट खेलना है। मैं इस जिम्मेदारी का लुत्फ उठा रहा हूं।’



और भी पढ़ें :