गुरुवार, 2 फ़रवरी 2023
  1. खेल-संसार
  2. क्रिकेट
  3. समाचार
  4. Last Time India met Australia in Mohali it was all about Virat Kohli
Written By
Last Updated: सोमवार, 19 सितम्बर 2022 (15:49 IST)

मोहाली में पिछली बार कंगारूओं का चीते की तरह कोहली ने किया था शिकार

फॉर्म में वापस आए विराट पर होंगी सबकी निगाहें

मोहाली: चाहे वह तेज गेंदबाजों पर पुल शॉट जमाना हो या फिर स्पिनरों के सामने आगे बढ़कर खेलना, विराट कोहली ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी20 श्रृंखला से पहले रविवार को यहां जमकर अभ्यास किया और अपने इरादे भी स्पष्ट किए।

कोहली नेट पर अभ्यास करने वाले पहले बल्लेबाजों में से एक थे। उनका ध्यान पूरी तरह से शार्ट पिच गेंदों को खेलने पर था। उन्होंने 45 मिनट के सत्र में कई उठती हुई गेंदों का सामना किया।

कोहली ने एशिया कप में अफगानिस्तान के खिलाफ शतक जमाकर फॉर्म में वापसी की और अब वह पीछे मुड़कर नहीं देखना चाहते हैं।

एशिया कप में उन्होंने राशिद खान जैसे गेंदबाज के सामने भी आगे बढ़कर शॉट मारे और रविवार को यहां नेट पर वह इसी मानसिकता के साथ उतरे तथा उन्होंने स्पिनरों पर इसी तरह के शॉट खेले।अफगानिस्तान के खिलाफ उन्होंने एक सलामी बल्लेबाज के रूप में शतक जड़ा था और उन्हें अहसास हो गया है कि छोटे प्रारूप में शुरू से ही आक्रामक रवैया अपनाना जरूरी है। अब जबकि उनकी फॉर्म और आत्मविश्वास लौट आया है तब उनसे मंगलवार को यहां एक और शानदार पारी की उम्मीद की जा रही है।

मोहाली में टी-20 विश्वकप में विराट की बल्लेबाजी का कंगारूओं के पास नहीं था कोई जवाब

उन्होंने 2016 में विश्व टी20 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ इसी मैदान पर 82 रन की नाबाद पारी खेली थी।भारत ने विराट कोहली के मात्र 51 गेंदों पर नौ चौकों और दो छक्कों से सजी नाबाद 82 रन की 'महापराक्रमी' पारी से 19.1 ओवर में ही चार विकेट पर 161 रन बनाकर ऑस्ट्रेलिया के छह विकेट पर 160 रन के स्कोर को जमींदोज कर दिया था।

विराट ने अपने नाम के अनुरूप 'विराट' पारी खेलते हुए ऑस्ट्रेलिया की तमाम उम्मीदों को ध्वस्त कर दिया था। विराट ने अपने कप्तान धोनी के साथ पांचवें विकेट के लिए 5.1 ओवर में 67 रन की मैच विजयी अविजित साझेदारी की थी जिसमें विराट का योगदान 47 और धोनी का 18 रन था। युवराज सिंह (21) के 94 के स्कोर पर आउट होने के बाद भारत पर कुछ संकट के बादल मंडरा रहे थे लेकिन विराट प्रहारों ने मैच को पांच गेंद पहले ही समाप्त कर दिया था।
भारत को अंतिम तीन ओवरों में 39 रन की जरूरत थी और मामला कुछ मुश्किल दिखाई दे रहा था लेकिन विराट ने बाएं हाथ के तेज गेंदबाज जेम्स फॉकनर के 18वें ओवर की पहली तीन गेंदों पर दो चौके और एक छक्का उड़ाकर टीम इंडिया का काम आसान कर दिया। इस ओवर में 19 रन पड़े।

'मैन ऑफ द मैच' बने विराट ने 19वें ओवर में नाथन कोल्टर नाइल की पांच गेंदों पर चार चौके जड़ते हुए देश को जश्न मनाने का मौका दे दिया था। अब ऑस्ट्रेलिया के पास कुछ नहीं बचा था। धोनी ने 20वें ओवर की पहली गेंद पर जैसे ही फॉकनर पर चौका जड़ा, पूरा देश इस शानदार जीत की खुशी में झूम उठा था।
कोहली को चुकता करने के लिए बेहद साहसी व्यक्ति की जरूरत पड़ेगी : फिंच

ऑस्ट्रेलिया के कप्तान आरोन फिंच ने सोमवार को कहा कि विराट कोहली को चुकता करने के लिए किसी बेहद साहसी व्यक्ति की जरूरत पड़ेगी और भारत के पूर्व कप्तान ने पिछले 15 वर्षों जो कुछ हासिल किया उसे देखते हुए उन्हें चुका हुआ कहना ‘हास्यास्पद’ होगा।

कोहली ने इस महीने के शुरू में एशिया कप में फॉर्म में वापसी की थी और अपना 71वां अंतरराष्ट्रीय शतक जड़ा था। यह उनका नवंबर 2019 के बाद पहला शतक भी था।

फिंच ने भारत के खिलाफ टी20 श्रृंखला की पूर्व संध्या पर कहा, ‘‘विराट कोहली को चुकता करने के लिए किसी साहसी व्यक्ति की जरूरत पड़ेगी। पिछले 15 वर्षों में उन्होंने दिखाया है कि वह सर्वकालिक महान खिलाड़ियों में एक हैं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘विशेषकर टी20 क्रिकेट में वह ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने अपने खेल को नयी ऊंचाइयों तक पहुंचाया है और जब आपको उनका सामना करना होता है तो आप अपनी सर्वश्रेष्ठ तैयारी करते हैं।’’फिंच ने वर्चुअल संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘वह लाजवाब हैं और उन्होंने 71 अंतरराष्ट्रीय शतक जमाए हैं। यह हास्यास्पद है।’’

फिंच ने खराब फॉर्म के कारण हाल में वनडे क्रिकेट से संन्यास ले लिया था और इस श्रृंखला में सभी की निगाहें उन पर टिकी रहेंगी।उन्होंने कहा, ‘‘एक समय के बाद आप आलोचनाओं के आदी हो जाते हैं लेकिन टी20 क्रिकेट में मुझे लगता है कि मैं वास्तव में अच्छा खेल रहा हूं। मुझे लगता है कि अगर आप वनडे और टी20 की फॉर्म को अलग करते हैं तो वे पूरी तरह से भिन्न हैं। वे खेल के दो भिन्न प्रारूप हैं।’’

ऑस्ट्रेलिया अगले महीने स्वदेश में होने वाले विश्व कप को ध्यान में रखकर इस श्रृंखला में उतरेगा। वहां परिस्थितियां पूरी तरह से भिन्न होंगी। ऑस्ट्रेलिया विश्व कप में मौजूदा चैंपियन के रूप में उतरेगा।

फिंच ने कहा, ‘‘हम जो भी फैसला करेंगे हमारी एक नजर विश्व कप पर होगी। हमने कल यहां विकेट देखा था और ऐसा लग रहा था कि उसमें थोड़ी घास है।’’उन्होंने कहा, ‘‘मोहाली में हम जानते हैं कि गेंद स्विंग कर सकती है, इसलिए मुझे लगता है कि अपने फोकस के मामले में हम अधिक संकीर्ण नहीं होंगे।’’

इस बीच पंजाब क्रिकेट संघ ने दो स्टैंड का नाम अपने दो स्टार खिलाड़ियों युवराज सिंह और हरभजन सिंह के नाम पर रखने का फैसला किया है। मंगलवार को मैच शुरू होने से एक घंटा पहले इस संबंध में सारी औपचारिकताएं पूरी की जाएंगी।

दक्षिणी छोर के पवेलियन का नाम भारत के सर्वश्रेष्ठ स्पिनरों में से हरभजन जबकि उत्तरी पवेलियन का नाम विश्व कप 2011 के नायक युवराज के नाम पर रखा जाएगा।
ये भी पढ़ें
टी-20 सीरीज में सीनियर नहीं इस जूनियर डेविड से भारत को रहना होगा सावधान