गुरुवार, 18 जुलाई 2024
  • Webdunia Deals
  1. खेल-संसार
  2. क्रिकेट
  3. समाचार
  4. Kuldeep Yadavs fifer plunders proteas to earn India an emphatic victory
Written By
Last Modified: शुक्रवार, 15 दिसंबर 2023 (00:07 IST)

जन्मदिन पर कुलदीप का पंजा,भारत ने दक्षिण अफ्रीका को 106 रनों से रौंदा

जन्मदिन पर कुलदीप का पंजा,भारत ने दक्षिण अफ्रीका को 106 रनों से रौंदा - Kuldeep Yadavs fifer plunders proteas to earn India an emphatic victory
INDvsSA  कप्तान सूर्य कुमार यादव (100) के शतकीय प्रहार के बाद कुलदीप यादव (17 रन पर पांच विकेट) की कातिलाना गेंदबाजी की मदद से भारत ने गुरुवार को तीसरे टी20 मुकाबले में दक्षिण अफ्रीका को 106 रनों से रौंद कर तीन मैचों की श्रृखंला को 1-1 से बराबर करने में सफलता हासिल की।वॉनडर्स स्टेडियम पर भारत ने पहले खेलते हुये 20 ओवर में सात विकेट खोकर 201 रन बनाये जिसके जवाब में दक्षिण अफ्रीका की पूरी टीम 13.5 ओवर में 95 रन बना कर पवेलियन लौट गयी।

भारत की जीत में सूर्य कुमार यादव और यशस्वी जायसवाल (60) के बीच 112 रन की साझीदारी के बाद कुलदीप यादव की घातक गेंदबाजी का अहम योगदान रहा। अपने 29वें जन्मदिन के मौके पर कुलदीप वाॅनडर्स की पिच पर अफ्रीकी गेंदबाजों पर कहर बन कर टूटे और एक के बाद एक विकेटों की लाइन लगा दी। उन्होने अपने तीसरे और पारी के 14वें एवं अंतिम ओवर में डेविड मिलर (35),लिजाड विलियम्स (0) और नांद्रे बर्गर (1) को चलता कर मेजबान टीम का पुलिंदा बांध दिया। टी20 करियर में यह तीसरा मौका है जब कुलदीप पांच विकेट लेने में सफल रहे हैं।

मिलर के अलावा कप्तान डेविड मारक्रम (25) ही भारतीय गेंदबाजों के सामने कुछ हिम्मत दिखा सके। दक्षिण अफ्रीका के सात बल्लेबाज तो खुद के स्कोर को दहाई अंकाें तक पहुंचाने में विफल रहे। कुलदीप के अलावा रविंद्र जडेजा ने दो विकेट झटके जबकि मो सिराज और अर्शदीप सिंह को एक एक विकेट मिला।

इससे पहले भारत ने पहले खेलते हुये तेज शुरुआत की मगर केशव महाराज ने पारी के तीसरे ओवर में सलामी बल्लेबाज शुभमन गिल (8) के अलावा तिलक वर्मा (0) को चलता कर मेहमान टीम को बैकफुट पर धकेलने की सफल कोशिश की। हालांकि नये बल्लेबाज के तौर पर सूर्य कुमार ने क्रीज संभाली और पहले से मौजूद यशस्वी जायसवाल के साथ बेखौफ अंदाज से स्कोरबोर्ड को तेजी से चलाने का क्रम जारी रखा। दोनो बल्लेबाजों ने मैदान के चारों ओर रनों की बौछार कर दी।

पारी के 14वें ओवर में दक्षिण अफ्रीका को भारत की इस खतरनाक साझीदारी को तोड़ने में सफलता हाथ लगी जब तबरेज शम्सी की फुल लेंथ गेंद को उड़ाने के प्रयास में यशस्वी जायसवाल लांग आफ में कैच थमा बैठे। यशस्वी के आउट होने का असर रनों की रफ्तार पर पड़ा क्योंकि नये बल्लेबाज रिंकू सिंह (14) आज अपेक्षित प्रदर्शन करने में असफल रहे जबकि दूसरे छोर पर शतक पूरा कर चुके सूर्य भी रनो की गति को तेज करने के प्रयास में लिजाड विलियम्स की गेंद पर अपना विकेट गंवा बैठे।

सूर्य ने अपने टी20 करियर की तीसरी शतकीय पारी में 56 गेंद खेलकर सात चौके और आठ छक्के लगाये। जितेश शर्मा अपने दूसरे मैच में भी असफल साबित रहे और चार रन बनाकर पवेलियन लौट गये वहीं रविंद्र जडेजा भी चार रनों पर रन आउट होकर वापस लौट गये। नतीजन एक समय 220 रनों के आसपास का स्कोर देख रही भारतीय टीम 201 रन ही बनाने में सफल रही।
ये भी पढ़ें
मोहम्मद शमी के बिना भारत को लोहा लेना होगा दक्षिण अफ्रीका से