टी-20 विश्वकप के लिए ऑस्ट्रेलिया ने चुना यह कीपर जिसने नहीं खेला एक भी T20I मैच!

Last Updated: गुरुवार, 19 अगस्त 2021 (17:39 IST)
मेलबर्न: ऑस्ट्रेलिया ने अक्टूबर में होने वाले आईसीसी के लिये पूरी मजबूत टीम की घेाषणा की है जिसमें स्टीव स्मिथ, डेविड वॉर्नर और पैट कमिंस की वापसी हुई है।

यूएई और ओमान में होने वाले टी20 विश्व कप के लिये घोषित ऑस्ट्रेलिया की 15 सदस्यीय टीम में तेज गेंदबाजों, स्पिनरों और आक्रामक बल्लेबाजों का अच्छा संतुलन है।वॉर्नर, कमिंस और स्मिथ ने वेस्टइंडीज और बांग्लादेश के सीमित ओवरों के दौरे से नाम वापिस ले लिया था।

ऑस्ट्रेलिया ने विकेटकीपर मैथ्यू वेड के बैकअप के तौर पर को शामिल किया है। इंगलिस को एलेक्स कैरी और जोश फिलीप पर तरजीह दी गई जबकि अभी तक उन्होंने एक भी अंतरराष्ट्रीय मैच नहीं खेला है।

15 सदस्यीय टीम में सबसे चौंकाने वाला नाम जोश इंगलिस का है। अभी तक अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अनकैप्ड रहे इंगलिस एक विकेटकीपर बल्लेबाज हैं जो टॉप ऑर्डर और मध्य क्रम दोनों में खेलने में माहिर हैं। पिछले 12 महीनों में घरेलू स्तर पर तीनों प्रारूपों में अच्छा प्रदर्शन करने के बाद इंगलिस को ऑस्ट्रेलिया के वेस्ट इंडीज और बंगलादेश दौरे के लिए एलेक्स कैरी और जोश फिलिप के रिप्लेसमेंट के तौर पर टीम में रखा गया था।
टीम का एलान होने के बाद सबसे ज्यादा वह ही चर्चा का विषय बने हैं। ऑस्ट्रेलियाई फैंस हैरान है तो मुख्य चयनकर्ता और पूर्व कप्तान जोर्ज बेली ने अपनी सफाई में कहा है कि यह सोच समझकर लिया गया फैसला है।

चयनकर्ता प्रमुख जॉर्ज बेली ने एक बयान में कहा, “ जोश इंगलिस कुछ समय से सफेद गेंद क्रिकेट में अपने प्रदर्शन के चलते हमारे रडार पर रहे हैं। वह हाल ही में विटैलिटी ब्लास्ट टी-20 टूर्नामेंट में सर्वाधिक रन स्कोरर की सूची में शीर्ष स्थान पर रहे थे। वह अपनी अनुकूलन क्षमता, पलटवार करने की क्षमता और पावर हिटिंग (ताबड़तोड़ बल्लेबाजी) के साथ टीम को बल्लेबाजी क्रम में लचीलापन प्रदान करेंगे। वह एक ऐसे खिलाड़ी हैं जिनके संबंध में हम भविष्य को लेकर उत्साहित हैं।

टी-20 लीग का तूफानी बल्लेबाज है जोश इंगलिस

बिगबैश लीग, द हंड्रेड और वाइटेलिटी टी20 ब्लास्ट में वह अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा चुके हैं। 26 वर्षीय यह दाएं हाथ का बल्लेबाज अपने दम पर मैच का रुख पलटने का माद्दा रखता है। कुल 63 टी -20 मैचों में 151.61 के जबरदस्त स्ट्राइक रेट और 32.90 की औसत से 1645 रन बनाए हैं। इस कारण चयनकर्ताओं ने उन पर बहुत विश्वास दिखाया है।

वह दो शतक और 11 अर्धशतक टी-20 लीग में लगा चुके हैं।अब यह देखना होगा कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपना पदार्पण कैसे कर पाते हैं। निश्चित तौर पर विश्वकप जैसे बड़े मंच पर डेब्यू करना उनके लिए आसान नहीं होगा। लेकिन अगर उनका बल्ला चल जाता है तो ना केवल ऑस्ट्रेलिया बल्कि अगले सीजन में होने वाले आईपीएल में भी वह मोटी रकम वसूल कर सकते हैं।

एक बार भी टी-20 विश्वकप नहीं जीत सकी है ऑस्ट्रेलिया
एक दिवसीय विश्व कप में पांच बार चैम्पियन और दो बार उपविजेता रही ऑस्ट्रेलिया अभी तक टी20 विश्व कप नहीं जीत सकी है और इस बार यह कसक दूर करना चाहेगी।

स्मिथ को कोहनी की चोट के बावजूद टीम में रखा गया है जबकि घुटने का आपरेशन कराने वाले सीमित ओवरों के कप्तान आरोन फिंच टूर्नामेंट तक फिट हो जायेंगे।

डैन क्रिस्टियन, नाथन एलिस और डेनियल सैम्स रिजर्व के तौर पर टीम के साथ जायेंगे। स्पिनरों की मददगार यूएई की पिचों को देखते हुए एश्टोन एगर, मिशेल स्वेपसन और एडम जाम्पा के रूप में तीन स्पिनरों को जगह दी गई है। तेज आक्रमण का दारोमदार मिशेल स्टार्क, कमिंस, केन रिचर्डसन और जोश हेजलवुड पर होगा।


चयन समिति के प्रमुख जॉर्ज बेली ने कहा ,‘‘ हमें यकीन है कि यह टीम टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन करेगी। हमारे पास विश्व स्तरीय खिलाड़ी हैं जो एक टीम के रूप में टी20 क्रिकेट की सर्वश्रेष्ठ टीमों के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन करेंगे।’’
टी20 विश्व कप में 16 टीमें भाग लेंगी और टूर्नामेंट 17 अक्टूबर से 14 नवंबर तक खेला जायेगा । ऑस्ट्रेलिया को पहला मैच 23 अक्ट्रबर को दक्षिण अफ्रीका से खेलना है।
टीम :
आरोन फिंच (कप्तान), पैट कमिंस, एश्टोन एगर, जोश हेजलवुड, जोश इंगलिस, मिशेल मार्श, ग्लेन मैक्सवेल, केन रिचर्डसन, स्टीव स्मिथ, मिशेल स्टार्क, मार्कस स्टोइनिस, मिशेल स्वीपसन, मैथ्यू वेड, डेविड वॉर्नर, एडम जाम्पा।




और भी पढ़ें :