Ranji Trophy : हारकर भी जम्मू कश्मीर ने क्वार्टर फाइनल के लिए क्वालीफाई किया

पुनः संशोधित शनिवार, 15 फ़रवरी 2020 (19:44 IST)
जम्मू। रणजी ट्रॉफी एलीट ग्रुप सी के मुकाबले में शनिवार को यहां हरियाणा से 2 विकेट से हारने के बाद भी के लिए क्वालीफाई करने में सफल रहा।

इस हार के बाद भी परवेज रसूल की कप्तानी में टीम 39 अंक के साथ ग्रुप में शीर्ष पर रही। जबकि मैच जीतने के बावजूद भी टूर्नामेंट में हरियाणा का सफर खत्म हो गया। हरियाणा 36 अंक के साथ तीसरे स्थान पर रही।

ग्रुप से क्वार्टर फाइनल के लिए क्वालीफाई करने वाली दूसरी टीम ओडिशा रही जिसने अपने आखिरी लीग मुकाबले में झारखंड से ड्रॉ खेलकर पहली पारी में बढ़त के आधार पर 3 अंक हासिल किया। टीम 38 अंक के साथ ग्रुप में दूसरे स्थान पर रही। झारखंड पहले ही इस दौड़ से बाहर हो गया था।

चौथी पारी में जीत के लिए 224 रन का पीछा करने उतरे हरियाणा ने दिन की शुरुआत 5 विकेट पर 103 रन से की लेकिन स्कोर में सिर्फ 4 रन ही जुटे थे कि अजीत चहल का विकेट गिर गया।

इसके बाद रसूल ने हरियाणा के कप्तान हर्षल पटेल को बोल्ड किया। विकेटकीपर बल्लेबाज रोहित शर्मा (141 गेंद में नाबाद 75 रन) ने एक छोर संभाले रखा और उन्हें जयंत यादव (13) का अच्छा मिला और दोनों ने 8वें विकेट के लिए 64 रन की साझेदारी की।

इसके बाद शर्मा ने राहुल तेवतिया (नाबाद 27) के साथ 44 रन की अटूट साझेदारी कर हरियाणा को जीत दिला दी। कटक में खेले गए ग्रुप के एक अन्य अहम मुकाबले में ओडिशा ने झारखंड की पहली पारी को 356 रन पर समेट कर पहली पारी में बढ़त के आधार पर 3 अंक हासिल किए।

पहली पारी में 436 रन बनाने वाली ओडिशा ने दूसरी पारी में 51 ओवर में एक विकेट पर 187 रन बनाकर पारी घोषित की जिसके साथ ही मैच को ड्रॉ घोषित कर दिया गया। ओडिशा के लिए सुभ्रांशु सेनापति ने दूसरी पारी में नाबाद 100 रन बनाए।

महाराष्ट्र ने बारामती में खेले गए मैच में उत्तराखंड को 67 रन से हराया। इस हार के बाद उत्तराखंड की टीम ग्रुप तालिका में सबसे नीचे रहने के कारण प्लेट ग्रुप में रेलीगेट हो गई।

उत्तराखंड को चौथी पारी में जीत के लिए 270 रन की जरूरत थी लेकिन चौथे दिन टीम ने 2 विकेट पर 103 रन से आगे खलते हुए 202 रन पर सभी विकेट गंवा दिए।

गुवाहाटी में त्रिपुरा और असम का मैच ड्रॉ पर छूटा। त्रिपुरा ने दूसरी पारी 7 विकेट पर 166 रन बनाकर घोषित की जिसके बाद असम को जीत के लिए 381 रन का लक्ष्य मिला लेकिन दिन का खेल खत्म होने तक टीम 5 विकेट पर 180 रन ही बना सकी।

रायपुर में पहली पारी में बड़े अंतर से पिछड़ने के बाद छत्तीसगढ़ ने सेना के खिलाफ मजबूत वापसी की और दूसरी पारी में जीवनजोत सिंह के 236 रन के दम पर 3 विकेट पर 586 रन बनाए। टीम के लिए हरप्रीत सिंह भाटिया ने 191 और अनुज तिवारी ने नाबाद 100 रन बनाए।


और भी पढ़ें :