Ranji Trophy : मुंबई के सरफराज खान 23 रन से दूसरा दोहरा शतक बनाने से चूके

Sarfaraz Khan
पुनः संशोधित गुरुवार, 13 फ़रवरी 2020 (18:51 IST)
मुंबई। रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy) नॉकआउट की दौड़ से बाहर हो चुकी रिकॉर्ड 41 बार की चैंपियन मुंबई (Mumbai) के लिए गुरुवार को एक और रिकॉर्ड बनते बनते रह गया। बेहतरीन फॉर्म के जरिए अपना डंका बजाने वाले मुंबई के 22 साल के (Sarfaraz Khan) केवल 23 रन से अपना चूक गए। रणजी ट्रॉफी ग्रुप-बी के मैच में सरफराज 177 रन पर आउट हो गए।
सरफराज ने 210 गेंदों की अपनी पारी में 24 चौके और 3 छक्के जमाए। सरफराज की इस पारी की बदौलत मुंबई ने अपनी पहली पारी में 427 रन बनाए। पहले दिन का खेल खत्म होने तक बुधवार को सरफराज ने 204 गेंदों में 22 चौके और 3 छक्के की मदद से 169 रन बनाकर नाबाद रहे थे। वह दूसरे दिन अपनी पारी में महज 8 रन ही बना पाए।

करियर के बेहतरीन फॉर्म में चल रहे सरफराज के दोहरे शतक के मंसूबों पर मध्यप्रदेश के ने पानी फेरा। रवि ने उन्हें अपनी ही गेंद पर लपक कर दिन का सबसे बड़ा विकेट अपने नाम किया।
इस मैच से पहले तक सरफराज ने इस साल के रणजी में अब तक पांच मुकाबले खेले हैं, जिसमें एक नाबाद तिहरा शतक, एक नाबाद दोहरा शतक और दो अर्धशतक जड़ चुके हैं और 700 से अधिक रन बना चुके हैं।

सरफराज ने पिछले महीने तिहरा शतक लगाने के बाद दोहरा शतक बनाकर 31 साल पुराना अनोखा इतिहास दोहराया था। वह प्रथम श्रेणी मैचों में तिहरा शतक बनाने के बाद दोहरा शतक बनाने वाले दूसरे बल्लेबाज बने थे। उनसे पहले यह कारनामा तमिलनाडु के डब्ल्यूवी रमन ने किया था। 1989 में रमन ने प्रथम श्रेणी मैचों तिहरे शतक जड़ने के बाद दोहरा शतक जड़ा था।


और भी पढ़ें :