IPL Retention: इन खिलाड़ियों को अपने पास रखना चाहेंगी 8 फ्रैंचाइजी

पुनः संशोधित मंगलवार, 30 नवंबर 2021 (11:37 IST)
मुंबई:आज रात को 9.30 बजे सभी फ्रैंचाइजी आईपीएल रिटेनशन में अपने सभी खिलाड़ियों की घोषणा कर सकती है। अभी तक केवल दिल्ली कैपिटल्स ने ही अपने चार खिलाड़ियों को रिटेन किया है, जबकि डेडलाइन 30 नवंबर आज है। नजर डाल लेते हैं उन खिलाड़ियों पर जिन्हें फ्रैंजाइजी आज रिटेन करना चाहेंगी।

मुंबई इंडियंस: के सामने ईशान किशन, हार्दिक पांड्या या सूर्यकुमार यादव में से किसी एक को रखने की चुनौती होगी। कप्तान रोहित शर्मा और जसप्रीत बुमराह का रिटेन होना पक्का है और पांच बार की चैंपियन मुंबई इंडियंस कीरोन पोलार्ड को भी रिटेन कर सकती है, जो उनकी फ़्रेंचाइज़ी के सबसे ख़ास खिलाड़ी रहे हैं। वहीं चौथे स्थान के लिए तीन खिलाड़ियों के बीच रेस है : इशान किशन, सूर्यकुमार यादव और हार्दिक पंड्या।

हार्दिक 2018 की नीलामी में रिटेन किए गए चार खिलाड़ियों में से एक थे, लेकिन 2021 आईपीएल में वह फ‍़िटनेस से जूझते दिखे। फ़िलहाल भारतीय चयनकर्ता अभी कुछ समय तक उन्हें चयन से दूर रखेंगे, जिससे वह गेंदबाज़ी के साथ पूरी फ‍़िटनेस को पा सकें। मुंबई के लिए किशन भी अहम हैं क्योंकि वह आक्रामक बल्लेबाज़ हैं और कीपिंग भी कर सकते हैं। वह युवा भी हैं। वहीं सूर्य ने दिखाया है कि वह अपना प्रभाव जल्दी छोड़ते हैं और पारी को अच्छे से एंकर करते हैं।

चेन्नई सुपर किंग्स: मौजूदा चैंपियन अपने चार खिलाड़ियों को रिटेन करने के लिए तैयार हैं, जिसमें से तीन भारतीय तिकड़ी एमएस धोनी, रवींद्र जडेजा और ऋतुराज गायकवाड़ हैं। चौथे स्थान को लेकर सवाल हैं, जिसमें मोईन अली, जॉश हेज़लवुड, सैम करेन और ड्वेन ब्रावो का नाम है। एक और मुद्दा धोनी का रिटेन होना होगा, क्योंकि इससे उनके नीलामी पर्स पर फ़र्क पड़ेगा। चेन्नई धोनी को रखना चाहती है, जो उनके 2008 से कप्तान और पहले रिटेनर खिलाड़ी भी हैं।

इसका मतलब है कि उनके पर्स से 16 करोड़ कम हो जाएंगे। हालांकि फ़्रेंचाइज़ी के पास एडवांटेज़ यह है कि अगर पूर्व भारतीय कप्तान 2022 आईपीएल के बाद संन्यास ले लेते हैं तो 2023 में फ़्रेंचाइज़ी के पास एक मज़बूत पर्स होगा। हालांकि यह भी पता चला है कि धोनी कम पैसों में भी रिटेन होने को तैयार हैं, जिससे कि दूसरे खिलाड़ियों को अच्छा पैसा मिल सके।

कोलकाता नाइट राइडर्स: सुनील नारायण और आंद्रे रसेल रिटेन होने वाली सूची में सबसे आगे हैं। केकेआर वरुण चक्रवर्ती को भी रिटेन करने की इच्छुक है, जिन्होंने पिछले दो सत्रों से टीम के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। चौथे स्थान के लिए वेंकटेश अय्यर, शुभमन गिल और राहुल त्रिपाठी के बीच रेस होगी। गिल और अय्यर में से किसी एक को चुनना आसान नहीं होगा, क्योंकि दोनों ही खिलाड़ी व्यक्तिगत तौर पर मज़बूत और अलग हैं।

केकेआर को गिल में कप्तानी का ज़ज्बा दिखता है और अय्यर ने हाल ही के सीज़न में अहम प्रभाव छोड़ा था। इसकी वजह से ही वह न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ घरेलू टी20 सीरीज़ में भारतीय टीम में डेब्यू भी कर पाए थे।भारतीय क्रिकेट में ज़्यादा तेज़ गेंदबाज़ी हरफ़नमौला खिलाड़ी भी नहीं है और बल्लेबाज़ के तौर पर भी अय्यर बहुत मज़बूत हैं। त्रिपाठी ने भी दिखाया है कि वह हंसते हुए किसी भी स्थान पर बल्लेबाज़ी कर सकते हैं।

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु: विराट कोहली और ग्लेन मैक्सवेल के रिटेन होने की पूरी संभावना है। हालांकि आरसीबी को चार में से दो भारतीय खिलाड़ियों को रिटेन करना होगा। देवदत्त पड़िक्कल और हर्षल पटेल के साथ युज़वेंद्र चहल और मोहम्मद सिराज भी इसके दावेदार होंगे और यह आसान चुनाव नहीं होने जा रहा है। पड़िक्कल 21 साल के हैं और 2019 में चुने जाने के बाद वह ओपनर के तौर पर लगातार उभर रहे हैं।

उन्हें ख़रीदा भी केवल 20 लाख में गया था। न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ हाल ही में टी20 सीरीज़ में डेब्यू करने वाले हर्षल आईपीएल में सर्वश्रेष्ठ डेथ ओवरों के गेंदबाज़ के तौर पर उभरे हैं। इस आइपीएल में वह सबसे ज़्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज़ भी रहे थे। वहीं चहल, राशिद खान और आर अश्विन के साथ आईपीएल के सर्वश्रेष्ठ स्पिनरों में से एक हैं, जबकि सिराज पिछले दो सत्रों से भरोसेमंद तेज़ गेंदबाज़ के रूप में उभरे हैं।

राजस्थान रॉयल्स: संजू सैमसन को पिछले साल ही कप्तान नियुक्त किया गया था तो उनका पहला रिटेनर खिलाड़ी बनना तय है। रॉयल्स ने इसकी पुष्टि भी कर दी है। रॉयल्स को अभी तीन खिलाड़ियों को और रिटेन करना है। इंग्लैंड के विकेटकीपर बल्लेबाज़ जोस बटलर दूसरा नाम हो सकते हैं और रॉयल्स को विश्वास है कि यह बल्लेबाज़ नया करार करेगा। चौथे स्लॉट पर भारतीय खिलाड़ी यशस्वी जायसवाल हो सकते हैं, जिन्हें रॉयल्स ने 2020 की नीलामी में 2.4 करोड़ में ख़रीदा था।

यह तीसरा स्लॉट होगा जिस पर रॉयल्स को विचार करना होगा, जहां पर उन्हें दूसरे विदेशी खिलाड़ी को रिटेन करना है। यह स्लॉट अभी इंग्लैंड के तेज़ गेंदबाज़ जोफ़्रा आर्चर का हो सकता है, लेकिन यह उनकी फ़िटनेस पर निर्भर करेगा। आर्चर 2020 आईपीएल में प्लेयर ऑफ़ द सीरीज़ थे, लेकिन कोहनी की चोट के कारण वह पिछला सीज़न नहीं खेल सके। सवाल बेन स्टोक्स की अनुपस्थिति पर भी उठेंगे। रॉयल्स के लिए समस्या यही है कि अगर वह स्टोक्स को लेते हैं तो उनका पर्स कमज़ोर हो जाएगा, क्योंकि स्टोक्स को उन्होंने 12.4 करोड़ में ख़रीदा था। इंग्लैंड के एक दूसरे बल्लेबाज़ लियम लिविंगस्टन भी दौड़ में होंगे, जो टी20 क्रिकेट के एक ख़तरनाक बल्लेबाज़ हैं, साथ ही वह मध्य ओवरों में उपयोगी लेग स्पिनर भी हैं।

सनराइज़र्स हैदराबाद: वैसे कई सारे सनराइज़र्स के प्रशंसक चाहते हैं कि फ़्रेंचाइज़ी दिग्गज खिलाड़ी डेविड वॉर्नर को रिटेन करे, जो 2021 टी20 विश्व कप के प्लेयर ऑफ़ द सीरीज़ बने थे, लेकिन ऐसा मुमकिन नहीं दिखता है। राशिद ख़ान पहले खिलाड़ी बनने को तैयार हैं, जिसे फ़्रेंचाइज़ी रिटेन करेगी। कप्तान केन विलियमसन, हैदराबाद के द्वारा रिटेन किए जाने वाले दूसरे विदेशी खिलाड़ी हो सकते हैं।

हालांकि, अगर फ़्रेंचाइज़ी विलियमसन को रखती है तो उनके पर्स से 10 से 12 करोड़ कम हो जाएंगे। सवाल सनराइज़र्स के लिए यह है कि वह न्यूज़ीलैंड के कप्तान को रिलीज़ कर दे और अगर नीलामी से पहले कोई दो टीम उनको नहीं ख़रीदती है तो नीलामी में दोबारा कम क़ीमत में ख़रीदे। अहम बात यह है कि अगर वह विलिमयसन में भविष्य का कप्तान देखते हैं तो यह बड़ा जुआ साबित हो सकता है क्योंकि कई फ़्रेचाइज़ी भी नए कप्तान को ढूंढ रही हैं। अभी यह भी साफ़ नहीं है कि सनराइज़र्स तीन खिलाड़ियों को रिटेन करेगी या चार। यह सामने आया है कि फ़्रेंचाइज़ी एक अनकैप्ड भारतीय खिलाड़ी को लेना चाहती है। जम्मू एंड कश्मीर के अब्दुल समद इस दौर में सबसे आगे हैं।

पंजाब किंग्स: क्या केएल राहुल ने से कहा था कि वह निकलना चाहते हैं? इसका अभी कोई जवाब नहीं है। लेकिन इस बात की बहुत संभावना है कि यह भारतीय बल्लेबाज़ लखनऊ की नई फ़्रेंचाइज़ी के साथ जा सकता है।किंग्स राहुल को अपने साथ रखना चाहती है, क्योंकि यह बल्लेबाज़ पिछले कुछ सत्रों से आईपीएल का सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज़ बनकर उभरा है। फ़्रेंचाइज़ी को एक और गुत्थी सुलझानी है।

अगर वह राहुल को लेती है तो उन्हें मयंक अग्रवाल को भी लेना होगा। अगर अग्रवाल पहले या दूसरे खिलाड़ी के तौर पर रिटेन होते हैं तो उनके 12 से 16 करोड़ पर्स से कम हो जाएंगे। लेकिन अगर वह उन्हें रिलीज़ करती है तो दो नई फ़्रेंचाइज़ी में से एक उन्हें ख़रीद सकती है। फ़्रेंचाइज़ी कुछ अनकैप्ड भारतीय खिलाड़ियों को भी रखना चाहती है, जिसमें अर्शदीप सिंह और रवि बिश्नोई आगे हैं।




और भी पढ़ें :