नाइट कर्फ्यू के बीच भी अभ्यास कर सकेंगे खिलाड़ी, मुंबई में ही होंगे IPL के मैच

Last Updated: मंगलवार, 6 अप्रैल 2021 (14:53 IST)
मुंबई: क्रिकेट एसोसिएशन (एमसीए) ने दोहराया है कि में कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए पूरे राज्य में लगाने के सरकार के नए आदेश के बावजूद आईपीएल मुकाबलों पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा।

एमसीए की ओर से यह स्पष्टीकरण महाराष्ट्र सरकार द्वारा रविवार शाम को राज्य भर में घोषित आंशिक लॉकडाउन के मद्देनजर आया है। एमसीए के एक पदाधिकारी ने सोमवार को एक बयान में कहा, “ हमारे पास शहर के निगम आयुक्त का फोन आया है और उनकी ओर से एसोसिएशन को आश्वासन दिया गया है कि कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए लॉकडाउन जैसे उपाय आईपीएल मैचों पर कोई प्रभाव नहीं डालेंगे, हालांकि अन्य क्रिकेट गतिविधियों को तुरंत रोकने के निर्देश दिए गए हैं। ”

पदाधिकारी ने यह भी पुष्टि की कि आईपीएल टीमें पहले की तरह सामान्य रूप से अभ्यास करना जारी रख सकती हैं। कोई भी क्रिकेट गतिविधि जो बायो-बबल (जैव-सुरक्षित वातावरण) का हिस्सा है, उसके आयोजन में किसी प्रकार की कोई बाधा नहीं आएगी।

एमसीए के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि वह लोगों की बेचैनी को समझते हैं, लेकिन यह भी आंशिक रूप से है, क्योंकि राज्य सरकार कोरोना टेस्ट को लेकर आक्रामक रही है। एमसीए को अभी तक सरकार से लॉकडाउन के बारे में कोई सूचना नहीं मिली है और अगर यह लगाया जाता है तो मुंबई में होने वाले मैचों पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा।

मुंबई सत्र के 10 मैचों की मेजबानी करने वाला है और इनमें से कुछ सप्ताहांत में हैं, जिसमें पहला मैच भी शामिल है, जो शनिवार को चेन्नई सुपर किंग्स और दिल्ली कैपिटल्स के बीच खेला जाना है। वहीं 10 अप्रैल से 24 अप्रैल तक मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में मुंबई इंडियंस के लगातार छह टीमों चेन्नई सुपर किंग्स, दिल्ली कैपिटल्स, पंजाब किंग्स, रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु, राजस्थान रॉयल्स और कोलकाता नाइट राइडर्स के साथ मुकाबले होने हैं।

यह विश्वास दिलाया गया है कि मुंबई में अपने शुरुआती मैच खेलने वाली चारों टीमें चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके), दिल्ली कैपिटल (डीसी), पंजाब किंग्स (पीके) और राजस्थान रॉयल्स (आरआर) विशेष आवास में रह रही हैं और बायो-बबल के बाहर किसी भी व्यक्ति के संपर्क में नहीं आएंगी।

उल्लेखनीय है कि महाराष्ट्र सरकार ने रविवार दोपहर काे कैबिनेट बैठक के बाद सप्ताहांत के दौरान पूरी तरह से लॉकडाउन सहित आंशिक लॉकडाउन की घोषणा की थी। इसके तहत शुक्रवार से सोमवार तक रात आठ से सुबह सात बजे तक लॉकडाउन रहेगा। चिंता का विषय यह है कि महाराष्ट्र में फिर से कोरोना के सक्रिय मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। यहां शनिवार को 49 हजार से अधिक नए मामले दर्ज किए गए हैं। इस दौरान अकेले मुंबई में ही नौ हजार से अधिक मामले सामने आए हैं, जिसमें बीसीसीआई (भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड) की परेशानी बढ़ा दी है।
वानखेड़े के 10 ग्राउंड स्टाफ हुए थे कोरोना पॉजिटिव,अब हुए निगेटिव

हाल ही में वानखेड़े स्टेडियम के 10 कर्मचारी और प्रतियोगिता प्रबंधन से जुड़े 6 सदस्य कोरोना वायरस की चपेट में आए थे तब से ही आईपीएल वेन्यू के बदलाव की सुगबुगाहट जोर पकड़ रही थी।

मुंबई क्रिकेट संघ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि पहले 8 मैदानकर्मी कोरोना पॉजिटिव आए थे फिर इनकी संख्या 10 हो गई। इन सभी कर्मियों को घर भेज दिया गया था।इस बीच मुंबई क्रिकेट संघ को बड़ी राहत मिली है क्योंकि वानखेड़े स्टेडियम के जिन 10 कर्मचारियों का पूर्व में परीक्षण पॉजीटिव आया था अब उनका परीक्षण नेगेटिव आया है।

वानखेड़े में रात आठ बजे के बाद अभ्यास की अनुमति मिली

महाराष्ट्र सरकार ने कोविड से बुरी तरह प्रभावित मुंबई में इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) मैचों के आयोजन का रास्ता साफ करते हुए महामारी रोकने के लिये लगाये गये रात के कर्फ्यू के दौरान रात आठ बजे के बाद अभ्यास करने और टीमों को होटल तक आने की अनुमति दे दी।
मुंबई और महाराष्ट्र में कोविड-19 के बढ़ते मामलों के कारण राज्य सरकार ने रविवार को मुंबई सहित पूरे महाराष्ट्र में रात आठ बजे से सुबह सात बजे तक कर्फ्यू लगाने की घोषणा की थी। इन दिशानिर्देशों का आज से पालन किया जा रहा है।

राज्य सरकार ने हालांकि आईपीएल टीमों को जैव सुरक्षित वातावरण का कड़ा पालन करते हुए रात आठ बजे के बाद भी अभ्यास करने की अनुमति दे दी। आईपीएल नौ अप्रैल से शुरू होगा जिसका पहला मैच चेन्नई में खेला जाएगा।
भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) को जारी पत्र में आपदा प्रबंधन, राहत और पुनर्वास विभाग के सचिव श्रीरंग घोलाप ने लिखा है, ‘‘मैच के समय को ध्यान में रखते हुए टीमों का सीसीआई (क्रिकेट क्लब ऑफ इंडिया) और एमसीए (मुंबई क्रिकेट संघ का स्टेडियम वानखेड़े) में दो सत्रों में दोपहर बाद चार बजे से शाम छह बजकर 30 मिनट और शाम सात बजकर 30 मिनट से रात 10 बजे तक अभ्यास का समय नियत किया गया है। ’’



और भी पढ़ें :