167 पर 0 से 16 रनों के भीतर भारत के 5 विकेट गिरे (वीडियो हाइलाइट्स)

Last Updated: शुक्रवार, 18 जून 2021 (14:40 IST)
ब्रिस्टल:भारतीय महिला टीम ने के खिलाफ एकमात्र टेस्ट मैच के दूसरे दिन गुरूवार को अपनी पहली पारी में 167 रन की बेहद मजबूत शुरुआत की लेकिन उसके बाद ने मात्र 16 रन के अंतराल में अपने पांच विकेट गंवा दिए और वह संकट में फंस गया। भारत ने दूसरे दिन स्टंप्स तक अपने पांच विकेट मात्र 187 रन पर खो दिए हैं और वह पहली पारी में इंग्लैंड के नौ विकेट पर 396 रन पारी घोषित के जवाब में 209 रन पीछे है।
भारत ने अपनी पहली पारी में शानदार शुरुआत की। पदार्पण टेस्ट खेल रही शेफाली वर्मा और स्मृति मंधाना ने इंग्लैंड की तेज और स्पिन गेंदबाजों का डटकर सामना करते हुए पहले विकेट के लिए 167 रन की साझेदारी की। दोनों ने अपने अपने अर्धशतक पूरे किये। शेफाली 96 रन पर पहुंच चुकी थीं कि तभी उन्होंने केट क्रॉस की गेंद पर अन्य श्रब्सोल को कैच थमा दिया। शेफाली ने 152 गेंदों पर 96 रन में 13 चौके और दो छक्के लगाए। शेफाली के आउट होने का असर स्मृति की एकाग्रता पर भी पड़ा और कुछ देर बाद नताली शिवर की गेंद पर उन्होंने कैथरीन ब्रंट को कैच थमा दिया। स्मृति ने 155 गेंदों पर 78 रन में 14 चौके लगाए।
इसके बाद कप्तान हीथर नाईट ने शिखा पांडेय को खाता खोलने का मौका दिए बिना अपनी ही गेंद पर लपक लिया। भारत को शिखा के आउट होने के चार रन बाद ही सबसे बड़ा झटका लगा जब सोफी एक्लस्टोन ने भारतीय कप्तान और सबसे अनुभवी बल्लेबाज मिताली राज को टैमी ब्यूमोंट के हाथों कैच करा दिया।मिताली ने दो गेंदों में मात्र दो रन बनाये। नाईट ने फिर पूनम राउत को मात्र दो रन पर पगबाधा कर दिया। भारत का चौथा और पांचवां विकेट 183 के स्कोर पर गिरा।
स्टंप्स के समय हरमनप्रीत कौर चार और दीप्ति शर्मा खाता खोले बिना क्रीज पर थीं। इंग्लैंड की तरफ से कप्तान नाईट ने छह ओवर में मात्र एक रन पर दो विकेट झटके जबकि क्रॉस, शिवर और एक्लस्टोन ने एक एक विकेट लिया।

इससे पहले सोफिया डंकली की नाबाद 74 रन की शानदार पारी और उनकी 10वें नंबर की बल्लेबाज अन्य श्रब्सोल (47) के साथ नौंवें विकेट के लिए 70 रन की महत्वपूर्ण साझेदारी की बदौलत इंग्लैंड ने छह विकेट 269 रन से आगे खेलते हुए नौ विकेट पर 396 रन बनाकर अपनी पहली पारी घोषित कर दी।
सोफिया 12 रन और कैथरीन ब्रंट ने सात रन से आगे खेलना शुरू किया। ब्रंट के स्कोर में एक रन जुड़ा था कि तेज गेंदबाज झूलन गोस्वामी ने ब्रंट को पगबाधा कर दिया। ब्रंट ने 37 गेंदों पर आठ रन बनाये। भारत को आठवें विकेट के लिए लम्बा इन्तजार करना पड़ा। सोफिया ने फिर सोफी एक्लस्टोन के साथ आठवें विकेट के लिए 56 रन की साझेदारी की। दीप्ति शर्मा ने एक्लस्टोन को शिखा पांडेय के हाथों कैच कराया। एक्लस्टोन ने 56 गेंदों में एक चौके के सहारे 17 रन बनाये। उनका विकेट 326 के स्कोर पर गिरा।
इसके बाद सोफिया ने श्रब्सोल के साथ नौंवें विकेट की साझेदारी में 70 रन जोड़ डाले और इस दौरान अपने पदार्पण टेस्ट में अर्धशतक बनाने की उपलब्धि भी हासिल की। स्नेह राणा ने श्रब्सोल को बोल्ड कर जैसे ही यह साझेदारी तोड़ी। इंग्लैंड की कप्तान हीथर नाईट ने अपनी पहली पारी नौ विकेट पर 396 रन पर घोषित कर दी। सोफिया ने 127 गेंदों पर नाबाद 74 रन में नौ चौके लगाए जबकि श्रब्सोल ने आक्रामक अंदाज में खेलते हुए 33 गेंदों पर 47 रन में छह चौके और एक छक्का लगाया।
भारत की तरफ से स्नेह राणा ने 39.2 ओवर में 151 रन देकर चार विकेट और दीप्ति शर्मा ने 27 ओवर में 65 रन पर तीन विकेट,पूजा वस्त्रकर ने 14 ओवर में 53 रन पर एक विकेट तथा झूलन गोस्वामी ने 21 ओवर में 58 रन देकर एक विकेट लिया।(वार्ता)



और भी पढ़ें :