हार्दिक पांड्या को लगा बड़ा झटका, फिटनेस टेस्ट में हुए फेल

Last Updated: शनिवार, 11 जनवरी 2020 (23:51 IST)
मुंबई। भारतीय क्रिकेट टीम के हरफनमौला खिलाड़ी हार्दिक पांड्या के में असफल होने से न्यूजीलैंड के छह हफ्ते के आगामी दौरे के लिए भारत की सीमित ओवर की टीम में ज्यादा फेरबदल की उम्मीद नहीं है।

भारतीय टीम 24 जनवरी से शुरू होने वाले दौर में 5 टी20 अंतरराष्ट्रीय, 3 वनडे और 2 टेस्ट मैच खेलेगी। इस दौरे के लिए टीम का चयन रविवार को किया जाएंगा।

पीठ में चोट के कारण 4 महीने से बाहर चल रहे हार्दिक टीम में शामिल होने के लिए जरूरी फिटनस नहीं हासिल कर सके। इससे यह पता चलता है कि उन्हें सर्जरी से उबरने में अधिक समय लगेगा।

न्यूजीलैंड में भारतीय टीम सीमित ओवरों के 8 मैच खेलेगी और यह देखना दिलचस्प होगा कि चयनकर्ता 15 के बजाय 16 या 17 सदस्यीय टीम का चयन करेंगे या नहीं।

भारत ए टीम का दौरा भी सीनियर टीम के दौरे के साथ ही हो रहा है तो चयनकर्ताओं के पास जरूरत पड़ने पर खिलाड़ियों को तुरंत शामिल करने का विकल्प होगा।

इस साल टी20 विश्व कप खेला जाना है, इसे देखते हुए चयनकर्ताओं का मुख्य ध्यान सफेद गेंद के क्रिकेट के लिए अहम खिलाड़ियों के चयन पर लगा होगा। श्रीलंका के खिलाफ हाल में समाप्त हुई श्रृंखला में खेलने वाली टी20 टीम के खिलाड़ियों का चयन तय ही है।

यह देखना भी दिलचस्प होगा कि वनडे टीम और टी20 टीम एक सी होंगी या नहीं। वनडे टीम की सबसे कमजोर कड़ी केदार जाधव हैं जो दबाव के बावजूद 50 ओवर की टीम में अपना स्थान बरकरार रखे हैं।

न्यूजीलैंड में जाधव की तकनीकी खामियां सामने आ सकती हैं और हाल के दिनों में ज्यादा ओवर नहीं खेलने को देखते हुए उन्हें टीम से बाहर किया जा सकता है। अगर टीम तकनीकी मजबूती के पहलू को देखती है तो अजिंक्य रहाणे वापसी कर सकते हैं लेकिन अगर ऐसा नहीं है तो मुंबई के सूर्यकुमार यादव की आक्रमक बल्लेबाजी को देखते हुए पांचवें या छठे स्थान के विकल्प के रूप में देखा सकता है।

सूर्य और संजू सैमसन दोनों ए टीम में शामिल हैं। टेस्ट टीम काफी संतुलित दिखती है जिसमें सिर्फ तीसरे सलामी बल्लेबाज के स्थान पर ही विचार किया जाना है। घरेलू श्रृंखला के लिए रिजर्व के तौर पर चुने गए युवा शुभमन गिल तीसरे सलामी बल्लेबाज के हकदार हैं लेकिन लोकेश राहुल की मौजूदा फार्म और टेस्ट क्रिकेट में उनके अनुभव पर विचार किया जा सकता है।

चयनकर्ता इस पर भी विचार करेंगे कि जसप्रीत बुमराह, उमेश यादव, मोहम्मद शमी और इशांत शर्मा का साथ निभाने के लिए पांचवें तेज गेंदबाज (नवदीप सैनी) के बजाय तीसरा स्पिनर (कुलदीप यादव) दो मैचों की टेस्ट श्रृंखला के लिए जरूरी होगा या नहीं। बाकी अन्य खिलाड़ियों को फिटनेस संबंधित कोई परेशानी नहीं है।


और भी पढ़ें :