न्यूजीलैंड दौरा : सफेद गेंद के लिए हार्दिक पांड्‍या की हो सकती है टीम में वापसी

पुनः संशोधित शनिवार, 11 जनवरी 2020 (15:32 IST)
मुंबई। न्यूजीलैंड के 6 हफ्ते के आगामी दौरे के लिए भारत की सीमित ओवर की टीम में ज्यादा फेरबदल की उम्मीद नहीं है और इसमें एकमात्र बदलाव हार्दिक पांड्‍या को शामिल करना हो सकता है। भारतीय टीम 24 जनवरी से शुरू होने वाले दौर में 5 टी-20 अंतरराष्ट्रीय, 3 वनडे और 2 टेस्ट मैच खेलेगी। इस दौरे के लिए टीम का चयन रविवार को किया जाएगा।
ALSO READ:
कौन हैं हार्दिक पांड्या की मंगेतर नताशा स्तांकोविक, क्लिक कर जानिए
न्यूजीलैंड में भारतीय टीम सफेद गेंद से 8 मैच खेलेगी और यह देखना दिलचस्प होगा कि चयनकर्ता 15 के बजाय 16 या 17 सदस्यीय टीम का चयन करेंगे या नहीं? भारत 'ए' टीम का दौरा भी सीनियर टीम के दौरे के साथ ही हो रहा है तो चयनकर्ताओं के पास जरूरत पड़ने पर खिलाड़ियों को तुरंत शामिल करने का विकल्प होगा।
इस साल टी-20 विश्व कप खेला जाना है, इसे देखते हुए चयनकर्ताओं का मुख्य ध्यान सफेद गेंद के क्रिकेट के लिए अहम खिलाड़ियों के चयन पर लगा होगा।

श्रीलंका के खिलाफ हाल में समाप्त हुई श्रृंखला में खेलने वाली टी-20 टीम के खिलाड़ियों का चयन तय ही है, लेकिन पहले ही 'ए' टीम के साथ न्यूजीलैंड पहुंच चुके पांड्‍या के 2 वनडे अभ्यास मैचों के अलावा न्यूजीलैंड के खिलाफ लिस्ट 'ए' के 2 मैचों में फिटनेस साबित करने के बाद टीम में शामिल किए जाने की उम्मीद है।
भारत 'ए' के 3 लिस्ट 'ए' मैच 26 जनवरी को ही समाप्त होंगे और पीठ की सर्जरी से वापसी करने के बाद उन्हें 29 जनवरी को तीसरे टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच में शामिल किया जा सकता है। बीसीसीआई के सीनियर अधिकारी ने नाम नहीं बताने की शर्त पर कहा कि हार्दिक के बारे में सिर्फ यही देखना है कि वे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के लिए पूरी तरह से फिट है या नहीं? वे भारत की विश्व टी-20 योजना के लिए बहुत अहम हैं।
यह देखना भी दिलचस्प होगा कि वनडे टीम और टी-20 टीम एक-सी होंगी या नहीं? वनडे टीम की सबसे कमजोर कड़ी केदार जाधव हैं, जो दबाव के बावजूद 50 ओवर की टीम में अपना स्थान बरकरार रखे हैं। न्यूजीलैंड में जाधव की तकनीकी खामियां सामने आ सकती हैं और हाल के दिनों में ज्यादा ओवर नहीं खेलने को देखते हुए उन्हें टीम से बाहर किया जा सकता है।


और भी पढ़ें :