नियमों में बदलाव के कारण गंभीर ने वनडे क्रिकेट में तेंदुलकर को कोहली पर तरजीह दी

Last Updated: गुरुवार, 21 मई 2020 (15:43 IST)
मुंबई। के ने लंबे करियर और खेल के नियमों में बदलाव का हवाला देकर एक दिवसीय प्रारूप में मौजूदा कप्तान विराट कोहली पर को तरजीह दी है। तेंदुलकर ने 463 वनडे खेलकर 49 शतक समेत 18426 रन बनाए। उन्होंने 2013 में से संन्यास लिया था।

दूसरी ओर कोहली ने 248 वनडे में 11867 रन बना लिए हैं जिनमें 43 शतक शामिल हैं। गंभीर ने स्टार स्पोटर्स के शो ‘क्रिकेट कनेक्टेड’ पर कहा, ‘सचिन तेंदुलकर क्योंकि उन्होंने एक सफेद गेंद से खेला जब सर्कल के भीतर चार फील्डर होते थे। अब पांच रहते हैं। मैं तेंदुलकर को चुनूंगा।’ आजकल वनडे क्रिकेट में दो सफेद गेंद ली जाती है जबकि तीन पावरप्ले होते हैं। भारत की विश्व कप 2011 में खिताबी जीत के सूत्रधारों में रहे गंभीर का मानना है कि नियमों में बदलाव का बल्लेबाजों को फायदा मिला।

उन्होंने कहा, ‘विराट कोहली का प्रदर्शन अच्छा रहा लेकिन मेरा मानना है कि नियमों में बदलाव का भी बल्लेबाजों को फायदा मिला है।’ गंभीर ने कहा, ‘नई पीढी को 2 नई गेंद खेलने को मिल रही है। रिवर्स स्विंग नहीं है और ना ही ऊंगलियों की स्पिन। पचास ओवर तक पांच फील्डर अंदर रहते हैं जिससे बल्लेबाजी आसान हो गई है।’ उन्होंने कहा कि लंबे कैरियर को देखते हुए भी वह तेंदुलकर को चुनेंगे। (भाषा)


और भी पढ़ें :