क्रिकेटर से टीचर बने सचिन तेंदुलकर, यहां लेंगे क्लासेस

पुनः संशोधित मंगलवार, 23 फ़रवरी 2021 (21:08 IST)

अब क्रिकेटर से टीचर बन गए हैं। वह अब बच्चों को मुफ्त में पढाएंगे वो भी मुफ्त में। बच्चों की शिक्षा के लिए जाने जानी वाली अनएकेडमी ने आज ही सचिन के साथ एक व्यवसायिक साझेदारी की घोषणा की।

यही नहीं मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर अनअकेडमी के ब्रांड एंबेसेडर बन गए हैं। साथ ही वह बच्चों के लिए इंटरेक्टिव क्लासेस में एक टीचर के तौर पर पढाएंगे भी।

अनएकेडमी के सह संस्थापक और सीईओ गौरव मुंजल ने कहा कि सचिन तेंदुलकर को अनएकेडमी से जोड़कर छात्र सचिन के जीवन की सीख बहुत आसानी से सीख पाएंगे। उन्होंने कहा इस योजना को वह बहुत गंभीरता से ले रहे हैं और सचिन की भूमिका आने वाले दिनों में और बड़ी होने वाली है जिसकी जानकारी मीडिया को आने वाले दिनों में दी जाएगी।

खेल को समझने के विषय मे सचिन से बेहतर कौन हो सकता है। इसलिए यह कयास लगाए जा रहे हैं कि सचिन बच्चों को खेल का थ्योरी भाग पढांएगे। हालांकि इसके बारे में पूरी तरह से कुछ महीने बाद ही पता चलेगा।

अपनी इस अलग भूमिका पर सचिन ने कहा कि - मुझे लगता है कि खेल न केवल लोगों को एकजुट करते हैं बल्कि जीवन के कई अहम लम्हों में कुछ सिखाते भी हैं। मैं हमेशा से ही अपने अनुभव छोटे बच्चों से बांटना चाहता था ताकि वह अपनी जिंदगी में सबसे बेहतर बन सके।

पिछले कुछ दिनों में सचिन के बहुत से फैंस और आलोचक सोशल मीडिया पर दिखे। दरअसल पॉप सिंगर रेहाना, पर्यावरण कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग और व्यस्क फिल्म अभिनेत्री मिया खलीफा ने दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन का समर्थन किया था। इस मुद्दे पर सचिन तेंदुलकर ने बिना नाम लिए विदेशियों के भारतीय मसलों में दखलंदाजी देने की आलोचना करी थी। (वेबदुनिया डेस्क)



और भी पढ़ें :