गुलाबी गेंद से भारतीय स्पिनरों ने लाल किया अंग्रेजों को, 112 पर समेटी पारी

Last Updated: बुधवार, 24 फ़रवरी 2021 (20:03 IST)
पहले टेस्ट की पहली पारी में 500 से ज्यादा रन बनाने के बाद की टीम के खिलाफ इस सीरीज में 200 रनों तक नहीं पहुंच पायी। तीसरे टेस्ट के पहले दिन तो 100 रनों तक पहुंचते पहुंचते इंग्लैंड हाफने लग गई। बमुश्किल 100 रनों का आंकड़ा पार हुआ। इंग्लैंड की पूरी टीम 112 रनों पर आउट हो गई।
दूसरे सेशन में तो इंग्लैंड की टीम 21 ओवर में मात्र 31 रन बना पायी और उसने 6 विकेट गंवा दिए।

चायकाल के ठीक बाद अपने 81 रनों पर 4 विकेट के स्कोर पर इंग्लैंड ने आगे खेलना शुरु किया तो पहले ही ओवर में ओली पोप को आर अश्विन ने बोल्ड कर दिया। इसके बाद बेन स्टोक्स को भी ने एक खूबसूरत गेंद पर पगबाधा आउट कर दिया।

इसके बाद तो इंग्लैंड के बल्लेबाजों की सांसे फूलने लगी। जोफ्रा आर्चर ने जरूर 2 चौके लगाए लेकिन अक्षर पटेल ने उनको बोल्ड कर दिया। उनकी जगह क्रीज पर आए जैक लीच का एक खूबसूरत कैच चेतेश्वर पुजारा ने अश्विन की गेंद पर स्लिप में पकड़ा।

स्टुअर्ट ब्रोड ने धीमा खेलते हुए कुछ देर बाद हवा में शॉट खेला लेकिन वह सीधा फील्डर के पास गया। इस ही के साथ अक्षर पटेल ने टेस्ट की लगातार 2 पारियों में 5 विकेट निकालने का रिकॉर्ड बनाया। अक्षर का डेब्यू चेन्नई में दूसरे टेस्ट में ही हुआ था।
बेन फॉक्स के डंडे उखाड़कर अक्षर ने अपने करियर में पहली बार 6 विकेट निकाले।

माना जा रहा था कि से सिर्फ 2 तेज गेंदबाज प्लेइंग 11 में रखकर कोहली ने गलती की लेकिन स्पिनरों की घातक गेंदबाजी के कारण तेज गेंदबाज को मिस नहीं किया गया। वहीं यह भी कयास लगाए जा रहे थे कि ओस के कारण स्पिनरों को दिक्कत होगी लेकिन ओस आने से पहले ही अक्षर और अश्विन ने इंग्लैंड की पारी को समेट दिया।

21.4 ओवर में 38 रन देकर अक्षर ने 6 विकेट लिए वहीं आर अश्विन ने 26 रन देकर 3 विकेट चटकाए।

इंग्लैंड की ओर से जैक क्राउली ने सर्वाधिक 84 गेंदो में 10 चौकों की मदद से 53 रन बनाए। उनके अलावा कप्तान (17)
और विकेटकीपर बने फोक्स (12) और तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर (11) ही दोहरे आंकड़े तक पहुंच पाए।
(वेबदुनिया डेस्क)



और भी पढ़ें :