'पुजारा और रहाणे को ना कराओं दक्षिण अफ्रीका की सैर', क्रिकेट विशेषज्ञों के बीच बन रही आम राय

Last Updated: मंगलवार, 7 दिसंबर 2021 (18:08 IST)
भारत ने न्यूजीलैंड से घरेलू सीरीज 1-0 से जीत ली है। अब अगला पड़ाव दक्षिण अफ्रीका है। दक्षिण अफ्रीका में टीम इंडिया को 26 दिसंबर से पहला टेस्ट खेलना है। दक्षिण अफ्रीका का दल भले ही कमजोर लग रहा हो लेकिन तेज पिचों पर इस टीम को हल्के में लेना भारतीय टीम के लिए भारी पड़ सकता है।

यही कारण है कि ज्यादातर क्रिकेट विशेषज्ञों के बीच यह आम राय बन रही है कि 3 मैचों की टेस्ट सीरीज में यह चाहते हैं कि बुरे फॉर्म से जूझ रहे चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे को इस दौरे के दल में शामिल नहीं किया जाए।

भारत के मुख्य कोच राहुल द्रविड़ ने भी संकेत दिये कि टीम प्रबंधन आगे कुछ कड़े फैसले ले सकता है और उन्होंने खिलाड़ियों के साथ स्पष्ट संवाद पर जोर दिया। अजिंक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा पर दक्षिण अफ्रीका दौरे से पहले टीम में अपनी जगह बचाये रखने का दबाव है और ऐसे में द्रविड़ की टिप्पणी महत्वपूर्ण है।

रहाणे और पुजारा की औसत लगातार जा रही नीचे

अब तक खेले 79 टेस्ट मैचों में अजिंक्य रहाणे 39 की औसत के साथ में 12 शतक और 24 अर्धशतकों की मदद से 4795 रन बना चुके हैं।

हाल ही में अजिंक्य रहाणे अपने खराब फॉर्म के कारण चर्चा में रहे हैं। पिछले मैच में कप्तान रहे अजिंक्या रहाणे का पिछले 16 टेस्ट मैचों में औसत सिर्फ़ 24.39 का रहा है। इसमें एक शतक भी शामिल है। उनका करियर औसत अब 40 से भी कम हो गया है। घर पर उनका औसत सिर्फ़ 35.73 है, जो पिछले पांच सालों में और कम होकर सिर्फ़ 30.08 रह गया है। उन्हें टेस्ट शतक लगाए करीब 1 साल हो गया है।

2018-19 के ऑस्ट्रेलिया दौरे के बाद से पुजारा के बल्ले से एक भी शतक नहीं निकला है और उनकी औसत 28.61 की रही है। ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड में उन्होंने कई अहम पारियां ज़रूर खेली लेकिन पूरी तरह अपनी लय प्राप्त नहीं कर पाए। इसी के कारण इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट महज़ 36.1 का रहा है। कानपुर टेस्ट में उन्होंने क्रमशः 26 और 22 रन बनाए। मुंबई टेस्ट की पहली पारी में वह 0 पर बोल्ड हो गए थे। दूसरी पारी में ऐसा लगा था कि वह अपना फॉर्म वापस पा लेंगे लेकिन 47 रनों पर वह पवैलियन चलते बने।

स्टीव हार्मिसन ने की प्लेइंग 11 में पुजारा और रहाणे नदारद

इंग्लैंड के पूर्व तेज गेंदबाज स्टीव हार्मिसन ने विराट कोहली को हिदायत दी है कि अगर टीम को दक्षिण अफ्रीकी तेज पेसरों के सामने अपने विकेट बचाने हैं तो फिर बुरे फॉर्म से जूझ रहे चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे को दक्षिण अफ्रीका ना ले जाएं।

उनकी जगह मध्यक्रम में कुछ युवा बल्लेबाजों को मौके दिए जाएं , जिससे टीम इंडिया को ना सिर्फ इस दौरे में फायदा होगा बल्कि भविष्य में विदेशी दौरे के लिए एक अलग टीम बनेगी।

आकाश चोपड़ा की प्लेइंग 11 में रहाणे को जगह नहीं

पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज और मशहूर कमेंटेटर आकाश चोपड़ा ने दक्षिण अफ्रीका से होने वाली टेस्ट सीरीज के लिए टीम बनाई है जिसमें से अजिंक्य रहाणे गायब है।

इसके अलावा उन्होंने इशांत शर्मा को भी अंतिम ग्यारह में जगह नहीं दी है। हैरत की बात यह है कि उन्होंने विदेशी दौरों पर बेहतर प्रदर्शन करने वाले शुभमन गिल को भी प्लेइंग 11 में शामिल नहीं किया है। पुजारा को भी आकाश चोपड़ा ने सिर्फ अंतिम अवसर के तौर पर टीम में रखा है।

लक्ष्मण ने भी कहा कि कम से कम पहले मैच में अजिंक्य को शामिल नहीं करे

एक खेल चैनल पर परिचर्चा के दौरान वीवीेस लक्ष्मण ने कहा कि दक्षिण अफ्रीका दौरे के लिए भारतीय टीम को पहले टेस्ट में कम से कम अजिंक्य रहाणे को मौका नहीं मिलना चाहिए। उनकी जगह श्रेयस अय्यर को टीम में चुना जाना चाहिए।



और भी पढ़ें :