1. खेल-संसार
  2. क्रिकेट
  3. समाचार
  4. Arshdeep was the pick of the bowlers against Proteas in First T20I
Written By भाषा
पुनः संशोधित गुरुवार, 29 सितम्बर 2022 (12:46 IST)

जीरो से हीरो बने अर्शदीप सिंह, बेहतरीन 3 विकेटों ने बनाया मैन ऑफ द मैच (Video)

इस महीने की शुरुआत में ही अर्शदीप सिंह की जर्सी पर विलेन का धब्बा लग गया था। उन्होंने पाकिस्तान के आसिफ अली का कैच छोड़ा था जिसके बाद बहुत से मीम बने, खालिस्तानी विवाद सामने आया, चौतरफा दबाव के भीतर भी अर्शदीप ने एशिया कप के अंतिम ओवर में पहले पाकिस्तान के खिलाफ 9 और फिर श्रीलंका के खिलाफ 7 रनों का बचाव करने में उन्होंने जांबाजी दिखाई।

कल तेज गेंदबाजी की मुफीद पिच पर उन्होंने 3 मुख्य दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजों को पवैलियन का रास्ता दिखाया। इसके कारण उन्हें मैन ऑफ द मैच पुरुस्कार मिला।जसप्रीत बुमराह और भुवनेश्वर कुमार की अनुपस्थिति में अर्शदीप ने नई गेंद संभाली और पांच गेंद के अंदर दक्षिण अफ्रीका के तीन विकेट लेकर उसके शीर्ष क्रम को झकझोर दिया था।मिलर डि कॉक और रासी जैसे बड़े नामों को उन्होंने सस्ते में आउट कर दक्षिण अफ्रीका की रीढ़ तोड़ दी। इनमें से 2 बल्लेबाज तो अपना खाता तक नहीं खोल पाए।

परिस्थितियों से सामंजस्य बिठाने पर मुख्य ध्यान: अर्शदीप

भारत के युवा तेज गेंदबाज अर्शदीप सिंह ने कहा कि अगले महीने ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 विश्वकप से पहले टीम का मुख्य ध्यान परिस्थितियों से सामंजस्य बिठाने पर है।टी20 विश्व कप 16 अक्टूबर से 13 नवंबर के बीच ऑस्ट्रेलिया में खेला जाएगा और अर्शदीप ने कहा भारतीय गेंदबाज वहां की कड़ी चुनौती से निपटने के लिए तैयार हैं।

एशिया कप में निराशाजनक प्रदर्शन के बाद दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टी20 मैच में शानदार वापसी करने वाले इस 22 वर्षीय तेज गेंदबाज ने कहा,‘‘ हमारी टीम का मुख्य लक्ष्य परिस्थितियों से सामंजस्य बिठाना और किसी भी तरह की परिस्थितियां हों उनके अनुकूल प्रदर्शन करने पर है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘जब हम वहां (ऑस्ट्रेलिया) जाएंगे तो फिर देखेंगे कि वहां परिस्थितियां किस तरह की है। मैं वहां अच्छा प्रदर्शन करना चाहता हूं।‘‘

अर्शदीप (32 रन देकर तीन विकेट) ने दीपक चाहर (24 रन देकर दो विकेट) के साथ मिलकर दक्षिण अफ्रीका का शीर्ष क्रम लड़खड़ा दिया था जिससे भारत ने बुधवार को यहां आठ विकेट से जीत दर्ज करके तीन मैचों की टी20 श्रृंखला में शुरुआती बढ़त हासिल की।
अर्शदीप ने कहा,‘‘ हमने अभ्यास सत्र के दौरान जो रणनीति बनाई थी उसे मैदान पर लागू करने का प्रयास किया। आज (बुधवार) हमने वास्तव में पावर प्ले में अच्छी गेंदबाजी का शानदार नमूना पेश किया और हम आगामी दिनों में भी ऐसा ही प्रदर्शन जारी रखने का प्रयास करेंगे।’’

बाएं हाथ का यह गेंदबाज अगले महीने होने वाले आईसीसी टूर्नामेंट में डेथ ओवरों में भारत का प्रमुख गेंदबाज होगा। उन्हें एशिया कप के बाद राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) में अनुकूलन शिविर में भेज दिया गया था जिस कारण वह ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन मैचों की टी20 श्रृंखला में नहीं खेल पाए थे।

अर्शदीप ने कहा, ‘‘पिछले 10 दिनों का उद्देश्य तरोताजा होना और मजबूत वापसी करना था और इससे मुझे अपनी गेंदबाजी में मदद मिली। मैं वास्तव में तरोताजा महसूस कर रहा हूं और मैदान पर अच्छा प्रदर्शन करने के लिए तैयार हूं।’’
इस साल जुलाई में इंग्लैंड के खिलाफ पदार्पण करने वाले अर्शदीप ने कहा कि वह चयन की परवाह किए बिना अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने का प्रयास करते हैं।

उन्होंने कहा,‘‘ आईपीएल के आखिरी दिनों में मुझे बताया गया था कि मैं उनकी रणनीति का हिस्सा हूं। मेरा मुख्य उद्देश्य जब भी मौका मिले तब अच्छा प्रदर्शन करना है। यह मेरा काम है और मैं चयन को लेकर बहुत अधिक नहीं सोचता हूं।’’

उन्होंने कहा,‘‘ शुरू में विकेट हासिल करके हमेशा अच्छा लगता है। हमारी रणनीति सरल थी और गेंद स्विंग कर रही थी। मैंने सही क्षेत्रों में गेंद कराई और इससे मुझे फायदा मिला।’’

Edited by:- Avichal Sharma
ये भी पढ़ें
Vada Pav Supremacy, रोहित शर्मा निकले महेंद्र सिंह धोनी से आगे, जानिए कैसे