FASTag में जुड़ा नया फीचर, अब आसानी से चेक कर सकेंगे अपना बैलेंस

Last Updated: मंगलवार, 29 दिसंबर 2020 (16:38 IST)
केंद्र सरकार ने 1 जनवरी 2021 से नई और पुरानी सभी गाड़ियों के लिए फास्टैग (FASTag) अनिवार्य कर दिया है। सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने ऐलान किया है कि सभी वाहनों के लिए देशभर में 1 जनवरी 2021 से आवश्यक किया जा रहा है।

(NHAI) ने यूजर्स की सुविधा के लिए फास्टैग ऐप (FASTag) में नया फीचर जोड़ा है। इससे यूजर्स ऐप में बैलेंस स्टेटस प्राप्त कर सकेंगे। NHAI ने बयान में कहा है कि 1 जनवरी से फास्टैग हर व्हीकल के लिए अनिवार्य हो रहा है, इसलिए इस बदलाव के सुचारू क्रियान्वयन के लिए NHAI ने फास्टैग ऐप को ‘चेक बैलेंस स्टेटस’ फीचर के साथ अपडेट किया है। फास्टैग में कितना बैलेंस बाकी है, इसे जानने के लिए यूजर को ऐप में वाहन संख्या डालनी होगी।
नया फीचर हाइवे से गुजरने वालों के साथ-साथ टोल ऑपरेटर के लिए भी मददगार है। दोनों ही यूजर रियर टाइम बेसिस पर फास्टैग का बैलेंस स्टेटस चेक कर सकेंगे और इसे लेकर होने वाले विवाद दूर हो सकेंगे।
बयान के मुताबिक नया फीचर इसलिए लाया गया है ताकि टोल प्लाजा पर यूजर फीस का भुगतान फास्टैग के जरिए हो सके और वेटिंग टाइम घट सके। इससे न सिर्फ समय व ईंधन की बचत होगी बल्कि वाहनों की कतारें भी नहीं लगेंगी।
इसके अतिरिक्त प्राधिकरण ने ब्लैकलिस्टेड टैग्स की रिफ्रेश टाइम लिमिट को भी घटाया है। इस लिमिट को मौजूदा 10 मिनट से घटाकर 3 मिनट कर दिया गया है। इसके पीछे उद्देश्य है कि इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन सिस्टम में स्टेटस के तेज अपडेशन हो सके और ऐप में ताजा स्टेटस दिखाई दे सके।



और भी पढ़ें :