बैंगलोर बनाम लखनऊ एलिमिनेटर मैच पर बारिश का साया, टॉस में हुई देरी (वीडियो)

पुनः संशोधित बुधवार, 25 मई 2022 (19:13 IST)
हमें फॉलो करें
बनाम मैच के शुरुआत में बारिश ने खलल डाल दिया है। एलिमिनेटर मैच का टॉस 7 बजे होना था लेकिन बारिश के कारण टॉस नहीं हो पाया है। यह बैंगलोर के लिए चिंता करने वाली बात है क्योंकि अगर मौसम नहीं सुधरा और एक भी ओवर करने लायक स्थिति नहीं होती है तो लखनऊ दूसरे क्वालिफायर के लिए क्वालिफाय कर जाएगी क्योंकि वह ग्रुप लीग में तीसरी टीम है और बैंगलोर चौथी।
बारिश ने खलल डाली तो यह होंगे नियम

अगर किसी स्थिति में मैच देरी से शुरू होता है तो प्लेऑफ़ मुक़ाबले 9.40 पीएम से शुरू किए जा सकते हैं और अहमदाबाद में ही 29 मई को होने वाला फ़ाइनल 10.10 पीएम को बिना ओवर घटाए शुरू हो सकते हैं। जबकि प्रति पारी दो स्ट्रैटेजिक टाइम आउट बना रहेगा, अगर मैच देरी से शुरू होता है तो मध्य ब्रेक को आधा किया जा सकता है।

नियमावली के मुताबिक, "यदि आवश्यक हो तो प्लेऑफ मैच में ओवरों की संख्या कम की जा सकती है ताकि प्रत्येक पक्ष को पांच ओवर तक बल्लेबाज़ी करने का अवसर मिले।" अगर पांच ओवर का मैच होता है तो टाइमआउट नहीं होगा। जबकि कट ऑफ़ स्टार्ट समय मध्य रात्रि 12 बजे से चार मिनट पहले होगा, जिसमें 10 मिनट का ब्रेक भी होगा। मैच समाप्ति का समय 12.50 एएम होगा। अगर फ़ाइनल पांच ओवर का होता है तो यह 12.26 एएम पर शुरू किया जा सकता है।

"अगर एलिमिनेटर और दोनों क्वालीफ़ायर (कोई रिज़र्व डे नहीं) में मैदान की स्थिति की वजह से पांच ओवर का भी मैच नहीं हो पाता है तो, नतीज़ा सुपर ओवर से निकाला जाएगा।" इन मैचों को ख़त्म कराने के लिए सुपर ओवर 12.50 एएम पर शुरू किया जा सकता है।

सुपर ओवर नहीं हो पाने पर ग्रुप में शीर्ष पर रहने वाली टीम होगी विजेता

अगर प्लेऑफ़ मैचों या फ़ाइनल में सुपर ओवर भी नहीं हो पाता है तो 70 मैचों की लीग में सबसे ज़्यादा मैच जीतने वाली टीम को विजेता घोषित किया जाएगा।"बारिश से प्रभावित मैच में विजेता पाने के लिए सुपर ओवर भी कराया जा सकता है। आमतौर पर टी20 में अगर पांच ओवर का मैच नहीं हो पाता है तो मैच को रद्द कर दिया जाता है।

फ़ाइनल के लिए सुपर ओवर रात 1.20 एएम पर शुरू होना होगा। अगर रिज़र्व डे में अतिरिक्त समय तक भी मैच शुरू नहीं हो पाता है तो अगर परिस्थिति आज्ञा देती है तो सुपर ओवर से फ़ाइनल का विजेता निकाला जाएगा। इसका मतलब है कि पिच और मैदान सुपर ओवर के लिए रात 1.20 एएम तक तैयार हो जाना चाहिए।"



और भी पढ़ें :