मैन ऑफ द मैच केएल राहुल ने टीम के लिए कहा यह, रोहित ने माना पिच में कमी नहीं (वीडियो)

Last Updated: शनिवार, 24 अप्रैल 2021 (16:59 IST)
चेन्नई:पांच बार की आईपीएल विजेता के खिलाफ यहां शुक्रवार को आईपीएल 14 के 17वें मुकाबले में बड़ी जीत के बाद के कप्तान और मैन ऑफ द मैच रहे लोकेश राहुल ने कहा कि वह खुद को बहुत आगे नहीं ले जाना चाहते हैं। वह धीरे-धीरे एक टीम के रूप में आगे आ रहे हैं। वह अभी भी एक युवा टीम हैं और इस मैच में टीम के युवा खिलाड़ियों ने अच्छा प्रदर्शन किया।
राहुल ने मैच के बाद कहा,“ हम हर साल नए खिलाड़ियों को लाते हैं, इसलिए धैर्य रखना जरूरी है। हमने जिन खिलाड़ियों का समर्थन किया है और अवसर दिए हैं वे धीरे-धीरे उभर रहे हैं। दीपक हुड्डा अच्छा खेल रहे हैं। शाहरुख को मौका मिला और उन्होंने इस मौके का बखूबी फायदा उठाया। वह अच्छी बल्लेबाजी कर रहे हैं। बिश्नोई ने आज अपने पहले ही मैच में शानदार गेंदबाजी की। मुझे यकीन है कि इससे बिश्नाेई का आत्मविश्वास बढ़ेगा। दुर्भाग्यवश वह शुरुआती मुकाबले नहीं खेल पाए। वह अनिल भाई (कुंबले) के साथ सच में कड़ी मेहनत कर रहे हैं। उन्हें कुछ चीजों को ठीक करने की जरूरत थी और आज उन्होंने बहादुरी से गेंदबाजी की। यह देखना बहुत अच्छा था। उन्होंने अपना मानसिक संतुलन बनाए रखा और अच्छी गेंदबाजी की।”
पंजाब के कप्तान ने कहा,“ शायद अब हम आगे की ओर बढ़ना जारी रख सकते हैं और अगले हर मैच में दो अंक हासिल कर सकते हैं। दूसरी पारी में बल्लेबाजी को लेकर मेरी प्रमुख कोच के साथ थोड़ी लंबी बातचीत हुई थी। मुझे लगा था कि विकेट पर ओस रहेगी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। मेरे हिसाब से गेंदबाज हमेशा दबाव में रहे। यह महत्वपूर्ण था कि हमारे गेंदबाज इस तरह की विकेट पर पहले गेंदबाजी करें। हमने सुना था कि यहां बहुत ओस रहती है, इसलिए मुझे ऐसा लगा कि मैं यहां एक महत्वूपर्ण भूमिका निभा सकता हूं।

सीधी गेंदों को खेलना आसान था, लेकिन जब गेंद घूम रही थी और उछल रही थी तो खेलना बहुत मुश्किल होता है। अच्छी बात यह थी इस समय क्रिस गेल क्रीज पर मेरे साथ थे। गेल ने अच्‍छा आत्‍मविश्‍वास दिखाया। उन्‍हें पता है किस गेंदबाज के खिलाफ आक्रामक रुख अपनाना है। क्रिस के साथ आपको इसी का फायदा मिलता है। वह न केवल खतरनाक बल्लेबाजी करते हैं, बल्कि उन्हें टी-20 क्रिकेट खेलने का कई वर्षाें का अनुभव भी है। जब मुझे पता होता है कि मैं किस लक्ष्य का पीछा कर रहा हूं तो पारी को गति देना थोड़ा आसान हो जाता है। मैंने जिस तरह से खेल को खत्म किया है उससे खुश हूं और यह सबसे महत्वपूर्ण चीज है।”

बल्लेबाजी के लिए बुरी नहीं थी पिच, फिर भी बड़ा स्कोर बनाने में नाकाम रहे : रोहित शर्मा

पंजाब किंग्स के खिलाफ यहां शुक्रवार को आईपीएल 14 के 17वें मुकाबले में हार का सामने करने वाले मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा ने कहा कि उनकी टीम ने पर्याप्त रन नहीं बनाए। उन्हें लगता है कि बल्लेबाजी के लिए यह पिच बुरी नहीं थी, लेकिन टीम एक बार फिर बड़ा स्कोर खड़ा करने में नाकाम रहे।
रोहित ने मैच के बाद कहा, “ आपने देखा कि कैसे पंजाब किंग्स ने बल्लेबाजी की और नौ विकेट से मैच जीत लिया। यह सिर्फ योजना पर अमल करने जैसा है जो हमारी बल्लेबाजी में गायब है। अगर आप इस विकेट पर 150 से 160 रन बनाते हैं तो आप हमेशा खेल में बने रहते हैं। यही वह चीज है जो हम पिछले दो मैचों में नहीं कर पाए। आप इसे किसी भी तरह से देख सकते हैं। मुझे लगता है कि पंजाब के गेंदबाजों ने पावरप्ले में अच्छी गेंदबाजी की।
ईशान हिट करने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन ऐसा नहीं कर पा रहे थे और यहां तक कि मैं भी हिट नहीं कर पा रहा था। हमने इससे पहले पावरप्ले में अच्छी बल्लेबाजी की थी, लेकिन आज हम ऐसा करने में नाकाम रहे। हमारे बल्लेबाजी लाइन-अप में कुछ गायब है। हम उस लय में 20 ओवर तक बल्लेबाजी करने में सक्षम नहीं बन पा रहे हैं जो हम चाहते हैं और हमें देखना होगा कि इस पर हम क्या कर सकते हैं। ”
मुंबई के कप्तान ने कहा, “ यह सिर्फ एक सामरिक बात है। हम एक ऐसा खिलाड़ी चाहते हैं जो बीच के ओवरों में स्पिनरों के खिलाफ अच्छी बल्लेबाजी करे और सूर्य कुमार यादव ने ऐसा करके भी दिखाया है, लेकिन जब आप इतनी चुनौतीपूर्ण पिच पर खेलते हैं तो आपको सभी संभावनाओं के लिए तैयार रहना होगा।

जब आप कोशिश करते हैं और चीजें सही होती हैं तब तो अच्छा लगता है, लेकिन अगर यह काम नहीं करता है तो बुरा लगता है, लेकिन हम हमेशा अपने द्वारा लिए गए निर्णय पर अडिग रहते हैं। हम मैदान पर पर्याप्त प्रयास नहीं कर रहे हैं। जब परिस्थितियां कठिन होती हैं तो आपको यह समझने की आवश्यकता होती है कि आपको किस तरह बल्लेबाजी और गेंदबाजी करनी है।”(वार्ता)



और भी पढ़ें :